महिलाओं को बढ़-चढ कार्य दिलाकर उनकी क्षमता सम्बर्धन के साथ ही उनकी आर्थिक स्थिति को भी मजबूत व सदृढ़ किया जाये


जिलाधिकारी रायबरेली, नेहा शर्मा व मुख्य विकास अधिकारी राकेश कुमार ने निर्देश दिये है कि राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन योजनान्तर्गत गठित स्वयं सहायता समूहों ़महिलाओं को बढ़-चढ कार्य दिलाकर उनकी क्षमता सम्बर्धन के साथ ही उनकी आर्थिक स्थिति को भी मजबूत व सदृढ़ किया जाये तथा उनका कौशल विकास में सम्वर्धन किया जाये। जनपद में प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों में 2 लाख 48 हजार बालक व बालिकाये अध्ययन कर रहे है। इन सभी बच्चों को दो सेट में ड्रेस दिया जाना है। सरकार द्वारा निर्देश है कि स्वयं सहायता समूह या जनपद स्तर पर विद्यालयों के छात्र/छात्राए की डेªस सिलवाकर दिया जाये। साथ ही समूह की महिलाओं को घर बैठे रोजगार भी मिल सके। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, जिला विकास अधिकारी, परियोजना निदेशक आदि बेहतर सामंजस्य बनाकर ड्रेस बनवाकर बच्चों को दो सेट में डेªस दिलाना सुनिश्चित करें। यह समयबद्ध कार्यक्रम है गुणवत्ता व मानक का विशेष ध्यान रखकर कार्य किया जाये।
बचत भवन सभागार में डीएम के निर्देश पर जिला विकास अधिकारी ए0के0 वैश्य व खण्ड शिक्षा अधिकारी वीनेन्द्र कुमार कनौजिया ने स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं की बैठक करते हुए महिलाओं से कहा गया कि आरसीटी बैंक आॅफ बड़ौदा के प्रशिक्षक द्वारा दिया जाना है अतः प्रशिक्षण को भली-भांति लें। डेªस के बनाने के लिए विद्यालय प्रबन्धक समिति या विद्यालय के प्रधानाध्यापक से सम्पर्क कर भली-भांति प्रशिक्षण ले तथा गुणवत्ता व मानक के अनुरूप डेªस व कपड़े के फोल्डर बनाकर दें। जिला विकास अधिकारी ए.के. वैश्य ने कहा कि डेªस सिलकर देना यह समयबद्ध कार्यक्रम है जिसमें जल्दी से जल्दी सम्पर्क कर स्वयं सहायता समूह की महिलाए कार्य करना सुनिश्चित करें। प्रशिक्षण की व्यवस्था ब्लाक स्तर पर ही करा दी जायेगी। प्रशिक्षण 6 दिन का रहेगा। प्रशिक्षण लेने वाली दूर दराज की स्वयं सहायता समूह महिलाओं को उनके घर से ब्लाक तक आने-जाने का कार्यक्रम स्थल तक बुलाने का काम की व्यवस्था रहेगी।
प्रशिक्षण में आधार कार्ड तीन फोटो लाना है प्रशिक्षण पूरी तरह निःशुल्क दिया जाये। प्रशिक्षण में स्वय सहायता समूहों की महिलाओं का भोजन आदि की व्यवस्था भी रहेगी। इसके अलावा बैठक में स्वयं सेवी संस्थाओं की महिलाओं ने भी अपने विचार रखें। प्रशिक्षण देने वाले आरसीटी बैक आॅफ बड़ौदा अमर दीप सक्सेना व विनीत कुमार निगम ने भी प्रशिक्षण से सम्बन्धित जानकारियां महिलाओं को दी।
इस मौके पर खण्ड शिक्षा अधिकारी वीरेन्द्र कुमार कनौजिया, एडी सूचना प्रमोद कुमार सहित बड़ी संख्या में राष्ट्रीय ग्रामीण अजीविका मिशन योजनान्तर्गत गठित स्वयं साहयता समूह की महिलाए उपस्थित थी।