शुक्र नाड़ी के चमत्कारी फलादेश


दि टाइम्स आॅफ एस्ट्रोलोजी के संपादक स्व. आर संथानम अपने नाड़ी ग्रन्थ' डाॅक्ट्रिन आफ शुक्र नाड़ी' में लिखते हैं। मूल शुक्र नाड़ी मे 18,000 श्लोक है। जिसके तमिल संस्करण को स्व. रामास्वामी पिल्लै ने काव्य रूप मे प्रकाशित किया था उनके शिष्य आर्यामुथु पिल्लै ने उसे गद्य रूप में प्रस्तुत किया। डाॅक्ट्रिन आफ शुक्र नाड़ी उसी के 15,00 श्लोकों पर आधारित है। निम्न फलादेश संस्थानम जी की उसी शुक्र नाड़ी से लिये गये है। जो 12 लग्नों के 108 नवांश पर आधारित है। 
-ः मेष लग्नः -
मेष नवांश-जातक दक्षिणी मुखी मकान जंम लेगा जिसके पूर्व-पश्च्छिम मे सड़क होगी और मकान के बगल मे गली होगी। तीसरे मकान के बगल मे गली होगी सड़क जी गणेश या मुकंद जी का मंदिर होगा मकान से पेड़ों की कतार दिखेगी मकान के पीछे खंडहर होगा ग्राम प्रधान संतानहीन होगा यदि लग्नेश शुभ नक्षत्र मे हो तो जातक शुद्र होगा यदि लग्नेश पाप दृष्ट हो तो वैश्य होगा लग्नेश पाप नक्षत्र मे हो और शुभ दृष्ट हो तो शैव होगा।
वृष नवांश-पूर्वमुखी मकान दक्षिण-उत्तर सड़क, दक्षिण पश्च्छिम मे जंगल हो, जातक काला, लंबा चेहरा, संकरा माथा, लंबी नाक, धीमे बात करे।
मिथुन नवांश-वैश्य पुरूष हो, उत्तरमुखी मकान पूर्व-पश्च्छिम सड़क हो, पूर्व मे षिव और पश्च्छिम मे गण्ेाश मंदिर हो गोरा, यषस्वी, नवांश के उत्तर भाग मे लग्न हो तो गाड़ी मे जंम, गंजा, छोटे बड़े हाथ हों।
कर्क नवांष-दबी नाक, भाई विहीन, पैर के अंगूठे पर घने बाल, पूर्व भाग मे जंम पुरूष का जंम।
कर्क नचांश-पूर्वमुखी मकान दक्षिण-उत्तर सड़क हो, संतानहीन, पड़ोसी विकलांग, द्वितीय भाग मे जंम स्त्री जातक हो, बांये स्तन पर तिल, लंबे घुंघराले बाल, मकान के निकट इमली का पेड़।
सिंह-पूर्व भाग मे जंम पुरूष हो दांये भाग मे तिल हो, क्षत्रिय, पड़ोसी संतानहीन, दक्षिण-उत्तर सड़क हो, कोने मे मंदिर,द्वितीय भाग मे जंम नाटा, दक्षिण-पश्च्छिम सड़क हो, दक्षिण मे बड़ा पेड़।
कन्या नवांश- पतले पैर, असमान हाथ व पीठ, बातूनी, नर्म देह, पूर्व भाग मे जंम बचपन मे दुबला, बाद में बलिष्ठ, द्वितीय भाग मे जंम स्त्री हो।
तुला नवांश-,चरित्रहीन पत्नी, द्वितीय भाग मे जंम ब्राह्मण, घर के निकट तालाब।
वृश्चिक नवांश- दक्ष्णि पश्च्छिम मे कई ईमली के पेड, पूर्वमुखी मकान  बंदर के समान चेहरा, पषु हत्यारा, गंभीर गुप्त रोग।
धनु नवंाश- पतला, लंबा, असमान माथा और कान, 
वृष लग्न:- 
मकर नवांश-पूर्वमुखी मकान, दक्षिण-उत्तर सड़क, सड़क मे तीसरा मकान हो, मकान के सामने गली हो, पड़ोसी को पुत्रदोश हो सामने खंडहर कुअंा हो, मध्यम कद, असामान्य आदतें।
कुंभ नवंाश-उत्तरमुखी मकान, पूर्व-पश्च्छिम सड़क हो, तीसरा पड़ोसी संतानहीन हो गोल सिर, मूर्खता पूर्ण बात करे, मंद बुद्धि, तालब व पेड़ हो।
मीन नवंाश-पूर्व मे नदी, पश्च्छिम मे मंदिर, दानी, कमल जैसे नेत्र, नर्म देह, चिकने अंग।
मेष नवांश-घर मे कोई विकलंाग, दक्षिण-उत्तर सड़क, पूर्व दिशा मे स्वजाति का पड़ोसी हो, बकरे जैसे नेत्र, चोर, निर्धन, गुप्त रोगी।
वृष नवंाश-दक्षिण-उत्तर सड़क, घर के बंाये शिव मंदिर, पूर्व मे हरिजन बस्ती हो उठी नाक, बैल समान चेहरा, काले बाल, चैड़ी लाॅयन्स।
मिथुन नवंाश-दक्षिणी मुखी मकान पूर्व-पश्च्छिम सड़क दक्षिण पश्च्छिम मे जल स्त्रोत, पड़ोसी वेश्या हो, अंय पड़ोसी की दो पत्नी हो काले बाल सुन्दर नेत्र, चालाक, मजाकिया, मीठी वाणी।
कर्क नवंाश-पूर्वमुखी मकान दक्षिण-उत्तर सड़क, सबंधियो को हानि, नर्म बाल, पत्नी व अतिंम पुत्र से मोह।,
सिंह नवंाश-उत्तरमुखी मकान, पूर्व-पश्च्छिम सड़क, घर के पीछे नदी या नहर, तीसरा पड़ोसी संतानहीन, दोनों सड़को के प्रवेश पर मंदिर हो। तेज नाखुन, चीते जैसी आंखें।
कन्या नवंाश-पूर्वमुखी मकान दक्षिण-उत्तर सड़क,तीसरे मकान मे वेश्या हो, जातक जुआरी, निचले पैर निर्बल, टिमिड हो।
मिथुन लग्न-
तुला नवंाश-दक्षिणी मुखी मकान पूर्व-पश्च्छिम सड़क दक्षिण पश्च्छिम मे तालाब, नुकीली नाक, कंधे तक बाल, वेश्यागामी, पतले पैर।
वृश्चिक नवंाश-पूर्वमुखी मकान दक्षिण-उत्तर सड़क, दक्षिण मे नदी, गोल नेत्र, गोरा अति बद्धिमान।
धनु नवंाश-पूर्वमुखी मकान दक्षिण-उत्तर सड़क, पूर्व मे प्याज का गोदाम, दक्षिण पूर्व मे मस्जिद हो, उत्तर पूर्व मे सार्वजनिक घड़ी हो, उत्तर पश्च्छिम मे अस्पताल, नीली देह, सुंदर माथा, शिकारी, घुड़सवार हो।
मकर नवांश-उत्तरमुखी मकान, पूर्व-पश्च्छिम सड़क, पश्च्छिम मे मंदिर, विन्सटी मे खंडहर हो, कामी।
कुंभ नवंाश-पश्च्छिम मुखी मकान सामने मंदिर हो, मकान के दक्षिण-उत्तर सड़क के बीच पानी की लाइन हो, तीसरे घर मे विकलांग हो, शहद जैसे नेत्र, लाल ओठ, जुआरी, उँचा नीचा माथा।
मीन नवंाश-उत्तरमुखी मकान, पूर्व-पश्च्छिम सड़क, बड़ा सिर चैड़ा माथा।
 मेष नवंाश-पूर्वमुखी मकान के दक्षिण-उत्तर सड़क, पहाडों से घिरा क्षेत्र चैड़ा सीना, उभरी हुयी तांबई आंखें।
वृष नवंाश-दक्षिणी मुखी मकान पूर्व-पश्च्छिम सड़क, पूर्व-पश्च्छिम सड़क, पूर्व मे नदी,पश्च्छिम मे मंदिर, उत्तर पूर्व मे राजभवन, बली, बुद्धिमान, कवि व कामशास्त्र का ज्ञान।
कर्क लग्न-
कर्क नवांश-उत्तरमुखी मकान, पूर्व-पश्च्छिम सड़क, मार्ग पर अम्बा का मंदिर, संुदर देह, काले लंबे बाल, लंबे हाथ, लस्टरस चेहरा, छोटे अंग।
सिंह नवंाश-पूर्वमुखी मकान के दक्षिण-उत्तर सड़क, पश्च्छिम घर मे पेड़ हो, मकान के बगल मे गली, उच्च षिक्षित, पतले एंकल्स, छोटे जोड़, मोक्ष की भावना,
कन्या नवंाश-दक्षिणी मुखी मकान पूर्व-पश्च्छिम सड़क, सामने के मकान के बगल मे गली, पूर्व मे मंदिर, चालाक, आलसी, संुदर नेत्र व गोरा,
तुला नवंाश-दक्षिणी मुखी मकान दक्षिण-उत्तर सड़क, मकान का पूर्व स्वामी संतानहीन था, कुछ संबधी बच्चा गोद लें। काला, बली, लंबा ,नाक व आंखें सुन्दर, उर्जावान और परोपकारी,
वृश्चिक नवांश-उत्तरमुखी मकान ,पूर्व-पश्च्छिम सड़क, मकान के बगल मे गली, उत्तर पूर्व मे मंदिर, घंटे के समान सिर, लंबे हाथ और चैड़ी भौहें।
धनु नवंाश-पूर्वमुखी मकान दक्षिण-उत्तर सड़क, विन्सिटी मे जल स्त्रोत, उत्तर पश्च्छिम मे मेलास्थल, लंबा बली षरीर, सुंदर दान्त, हरा रंग, प्रभावषाली।
मकर नवंाष-उत्तरमुखी मकान ,पूर्व-पष्च्छिम सड़क, घर मे किसी के नेत्र खराब, पष्च्छिम मे कार्तिकेय जी का मंदिर, बाल गिरें, पैर आदि मे नसें दिखें, गौ तुल्य दिखे, सूखी वाणी,
कुंभ नवंाश-पूर्वमुखी मकान के दक्षिण-उत्तर सड़क, कछुऐ के समान चाल, दबी सुंदर नाक, काला, नीच दस्तकारी मे संलग्न।
मीन नवंाश-उत्तरमुखी मकान ,पूर्व-पश्च्छिम सड़क,
उत्तर पूर्व मे तालाब, उभरी नाक, चैकोर शरीर, चैड़ा माथा।
सिंह लग्न- 
मिथुन नवंाश-पश्च्छिम मुखी मकान,दक्षिण-उत्तर सड़क, भुजा पर बाल, दयालु, गोल गर्दन, चमकदार शरीर, धार्मिक लोगों का ए रेंडेजन्वस ।
कर्क नवंाश-उत्तरमुखी मकान ,पूर्व-पष्च्छिम सड़क, मकान के सामने गली, लंबे बाल युत हाथ, काले पतले नेत्र, पैर और षरीर लंबा, रंग घी के समान, सर के खिचड़ी बाल।
सिंह नवंाश-पूर्वमुखी मकान के दक्षिण-उत्तर सड़क, गंजा, उज्ज्वल नेत्र, तांेद, लंबे दान्त, क्रूर।
कन्या नवंाश-पूर्वमुखी मकान के दक्षिण-उत्तर सड़क घर मे पुत्र विकलांग, उत्तर पष्च्छिम मे मंदिर, सर मे कड़े बाल, काला लंबा शरीर, प्रभावषाली वक्ता।
तुला-पूर्वमुखी मकान के दक्षिण-उत्तर सड़क, परिवार मे बदनाम सदस्य, लंबा, बदसूरत चेहरा, धने बाल, ़क्रूर व धोखेबाज।
वृश्चिक नवंाश-दक्षिणमुखी मकान, पूर्व-पश्च्छिम सड़क, घर मे साधु आये, नम्र धंसी आंखें, बली देह, निर्धन, चालबाज।
धनु नवंाश-पूर्वमुखी मकान के दक्षिण-उत्तर सड़क, विन्सिटी मंे मंदिर, पड़ोस घर मे दत्तक पुत्री हो, गधे जैसा चेहरा, लंबी चंचल आखें, फेफड़े का रोगी।
कन्या लग्न-
मकर नवंाश-पश्च्छिम मुखी मकान, दक्षिण-उत्तर सड़क, पड़ोस घर मे कोई सदस्य विकंलाग, रिनी जैसी आंखें, काला, लंबा, चालाक।
कुंभ नवांश-उत्तरमुखी मकान ,पूर्व-पश्च्छिम सड़क, मार्ग मे मंदिर, पूर्णचन्द्र समान चेहरा, उज्जवल नेत्र व शरीर, बलिष्ठ जांघे, तोंद।
मीन नवंाश-पूर्वमुखी मकान के दक्षिण-उत्तर सड़क,हल्का लाल रंग, आधा शरीर पतला, सुंदर, साहित्य प्रेमी, मोटा।
मेष नवंाश-पश्च्छिम मुखी मकान,पूर्व-पश्च्छिम सड़क,सड़क पर गणपति का मंदिर, अस्पष्ठ वाणी, कमल के समान पैर।
वृष नवांश-पूर्वमुखी मकान के दक्षिण-उत्तर सड़क,पड़ोसी की संतान विकंलाग, मोट ओठ और नाक, विशाल देह, मजबूत एड़ी, घने बाल।
मिथुन नवंाश-पूर्वमुखी मकान के दक्षिण-उत्तर सड़क,क्षिणमुखी मकान, पूर्व-पश्च्छिम सड़क, कामुक, आदर्श, खिलाड़ी, प्रभावशाली।
कर्क नवंाश-पश्च्छिम मुखी मकान, दक्षिण-उत्तर सड़क, छोटा चेहरा, उभरी पीठ, जल से भय, तोंद दृढ पैर।
सिंह नवंाश-उत्तरमुखी मकान ,पूर्व-पश्च्छिम सड़क, पहाड़ियों से घिरा क्षेत्र, पीले चिकने बाल, गोरा, लंबा, सुंदर नेत्र, दृढ पैर।
कन्या नवंाश-पूर्वमुखी मकान दक्षिण-उत्तर सड़क, तीसरा पड़ोसी संतानहीन, सम्मानित,लेखन, चित्रकला मे दक्ष, भोगी, भौतिक सुख।
तुला लग्न-
तुला नवांश-उत्तरमुखी मकान, पूर्व-पश्च्छिम सड़क, मकान के पीछे ईमली के पेड़, गोरा, बड़े नेत्र, लंबा चेहरा, नई वस्तुओं का व्यापार, धन कमाये। वृश्चिक नवंाश- पूर्वमुखी मकान दक्षिण-उत्तर सड़क, अकेला मकान, उत्तर पूर्व मे शिव मंदिर, लंबे दांत, गोल आंखे, धंसा सीना, लर्बल देह, क्षमाशील, भौंह पर स्प्रेस बाल।
धनु नवंाश--दक्षिणमुखी मकान, पूर्व-पश्च्छिम सड़क, सड़क पर दो मंदिर, तीसरा मकान ख्ंाडहर, गोरा, घोड़े जैसा मुख, उभरी नाक, नाखुन, पतला शरीर, सुंदर नेत्र। 
मकर नवांश-पश्च्छिम मुखी मकान,दक्षिण-उत्तर सड़क, बीच मे धंसी नाक, जलती नजर, चंचल दिमाग, आत्म सम्मान का भूखा, संबधियो से प्रेम।
कुंभ नवांश-उत्तरमुखी मकान,पूर्व-पश्च्छिम सड़क,पड़ोसी को पुत्रदोष, गोरा व बली, चैड़ी आखें, नेत्र व नितंब सुंदर, चमकीले नख, सांसारिक मामलों और शास्त्रों मे दक्ष।
मीन नवंाश-पश्च्छिम मुखी मकान,दक्षिण-उत्तर सड़क, पूर्वमुखी मकान के दक्षिण-उत्तर सड़क, बुद्धिमान, गोरा व लाल शरीर, मोटा व नाटा, छोटा माथा व स्टिगीं।
मेष नवंाश-दक्षिणमुखी मकान, पूर्व-पश्च्छिम सड़क, सड़क पर मंदिर, नाटा, क्रोधी, बुरी पत्नी, कम संतान, रोमिंग।
वृष नवांश-पूर्वमुखी मकान के दक्षिण-उत्तर सड़क, पश्च्छिम मे राजभवन या स्थान, गोल व कंधे उभरे, भोगी, बुद्धि व ज्ञान नष्ट हो।
मिथुन नवंाश-उत्तरमुखी मकान ,पूर्व-पश्च्छिम सड़क, प्रसन्न आंखें, सम्मनित, गोरा, बुद्धिमान, उदार, मजाकिया। 
वृश्चिक लग्न- 
कर्क नवंाश-दक्षिणमुखी मकान, पूर्व-पश्च्छिम सड़क, पश्च्छिम मे गणेष जी का मंदिर, उठे होठ, सुंदर माथा, गोरा, मोटा, मजबूत जोड़, पड़ेासी संतानहीन। सिंह नवंाश-पूर्वमुखी मकान के दक्षिण-उत्तर सड़क,घर मे बड़े पेड़, लाल नेत्र, मजबूत हाथ, धन छिपाये, क्रूर बुद्धि।
कन्या नवंाश-उत्तरमुखी मकान ,पूर्व-पश्च्छिम सड़क, एक पड़ोसी संतानहीन दूसरे के विकलांग पुत्र, अति शिक्षित, महनती और धनी, उत्तम वक्ता, गोरा,
सुंदर होठ, जातक माता की शादी के पूर्व गर्भ मे आये।
तुला नवंाश-पष्च्छिम मुखी मकान,दक्षिण-उत्तर सड़क, मकान का एक भाग टूटा, जलती लाल आंखें, धंसी नाक, असमान अंग, भोगी।
वृश्चिक नवंाश-दक्षिणमुखी मकान के दक्षिण-उत्तर सड़क, बेषर्म, निर्बल, मुर्गी पालन केन्द्र।
धनु नवंाश-पश्च्छिम मुखी मकान,दक्षिण-उत्तर सड़क, सामने अविकसित मार्ग, उत्तर पूर्व मे अज्ञात मंदिर, उभरी हुयी नाक, दयालु, विस्तृत बुद्धि, नम्र स्वभाव। मकर नवंाश-उत्तरमुखी मकान ,पूर्व-पश्च्छिम सड़क,उत्तर पूर्व मे पेड़ों का घना बाग, मुंह खुला हुआ, अंदर को धंसे दान्त, निर्बल देह नसें दिखें।
कंुभ नवांश-पश्च्छिम मुखी मकान, दक्षिण-उत्तर सड़क, पूर्व मे नदी, चारों ओर पहाड़, खुले नथुने, बुरी आदतें, मंद बुद्धि,कोर्स बाल।
मीन नवंाश-उत्तरमुखी मकान ,पूर्व-पश्च्छिम सड़क, दक्षिण पूर्व मे राजभवन, उत्तर पूर्व मे मुर्गी पालन केन्द्र, पशु तुल्य आकृति, गोरा, शांत, बुजुर्गो का प्रिय, ब्लोडें बाल।
धनु लग्न-
मेष नवंाश-दक्षिणमुखी मकान, पूर्व-पश्च्छिम सड़क, सड़क, मकान स्वामी संतानहीन, बड़ी नाक, भेड़ जैसी आंखें, सुंदर दांत, मुलायम बाल, गोरा, बड़े अंडकोष।
वृश नवांश-पश्च्छिम मुखी मकान, दक्षिण-उत्तर सड़क पूर्वमुखी मकान के दक्षिण-उत्तर सड़क, बड़ा सर, बड़े गाल व नाक, अनोखी अंाखे।
मिथुन नवंाश- उत्तरमुखी मकान ,पूर्व-पश्च्छिम सड़क, पश्च्छिम मे मंदिर व तालाब, व्याकरण और साहित्य मे दक्ष, घमंडी, जलती आंखें, स्त्रियों का सहायक, नसें दिखें, मजाकिया।
कर्क नवांश--पश्च्छिम मुखी मकान,दक्षिण-उत्तर सड़क, सामने वाले पड़ोसी की दो पत्नी, पड़ोसी की झगड़ालु औरत, बुद्धिमान, षहद जैसी आंखें, निर्धन, गोरा, सर पर एब्डेंट बाल, सुंदर व मजबूत देह।
सिंह नवंाश-दक्षिणमुखी मकान, पूर्व-पश्च्छिम सड़क, सड़क पर विष्णु मंदिर,दृढ गर्दन, बड़ा सिर, चैड़ी आंखे, चैड़ा चेहरा, उच्चस्तरीय जीवन, तेज दिमाग।
कन्या नवंाश-पूर्वमुखी मकान के दक्षिण-उत्तर सड़क, दक्षिण पूर्वमुखी मकान के दक्षिण-उत्तर सड़क,, उत्तर पश्च्छिम मे जल संग्रहालय, पढाकू, चमकदार नेत्र, शैक्षिक उपलब्धि
तुला नवंाश-उत्तरमुखी मकान ,पूर्व-पश्च्छिम सड़क,घनी बस्ती, बगल मे मंदिर, काला, दयालु, शांत, मिलनसार, धन बचाये।
वृश्चिक नवंाश-पूर्वमुखी मकान के दक्षिण-उत्तर सड़क, पश्च्छिम मे मंदिर, उत्तर पच्छिम मे राजभवन, छोटी, सपाट नाक, चैड़ा सिर, भयभीत आंखे, बदला ले, षिक्षक का भक्त।
धनु नवंाष-दक्षिणमुखी मकान, पूर्व-पष्च्छिम सड़क,गोरा घोड़े जैसा मुख, वैद्य, सज्जन।
मकर लग्न- 
मकर नवांष-उत्तरमुखी मकान ,पूर्व-पष्च्छिम सड़क, छोटे ष्वेत दांत, दांतों के बीच स्थान, काला, प्रसिद्ध, सर व गर्दन मे दर्द, निर्बल देह, निर्धन, गायन, वादन मे रूचि, बकवास आये।
कंुभ नवांष-पूर्वमुखी मकान के दक्षिण-उत्तर सड़क, क्राधी, आलसी, कटु वचन, संगीतप्रिय, बातुनी, दक्ष, स्त्रियों मे प्रिय।
मीन नवंाष-दक्षिणमुखी मकान, पूर्व-पष्च्छिम सड़क,मार्ग मंे गणेष मंदिर, मकान के बगल मे पेड़, संगीत मे दक्ष, गोरा, प्रसिद्ध, सुन्दर नाक व नेत्र, कई मित्र, हर लक्ष्य प्राप्त करे।श्
मेश नवंाष-पश्च्छिम मुखी मकान,दक्षिण-उत्तर सड़क,लाल गोल आंखें, चैड़ा माथा, निर्बल दान्त व पैर, कम बोले।
वृष नवांश-उत्तरमुखी मकान ,पूर्व-पश्च्छिम सड़क,उभरे गाल, नाक व पेट, सुखी, मनोकामनाये पूर्ण होंगीं,नवयुवतियों का प्रिय, दत्तक पुत्र मकान पाये।
मिथुन नवंाश-पूर्वमुखी मकान के दक्षिण-उत्तर सड़क,मार्ग मंे मंदिर, उज्जल देह, संुदर, छोटे व समान दान्त,चैड़ा माथा, मीठी वाणी। 
कर्क नवांष-दक्षिणमुखी मकान, पूर्व-पष्च्छिम सड़क,पष्च्छिम मे विश्णु मंदिर, काला, आलसी, वक्ता, घुंघराले बाल, चैड़ा षरीर, हाथ पैर मुलायम, कठोर, गुणवान, बुद्धिमान।
सिंह नवंाष-पष्च्छिम मुखी मकान,दक्षिण-उत्तर सड़क, सामने के मकान मे विकलांग संतान, जलती दृश्टि, घड़े के समान माथा, गोटिसक देह।
कन्या नवंाष-,उत्तरमुखी मकान पूर्व-पष्च्छिम सड़क, सुंदर, अति बुद्धिमान, राजनीति मे दक्ष, उदार, बड़ी आंखें, चैड़ामाथा। 
कुंभ लग्न- 
तुला नवंाष-पूर्व-पष्च्छिम-पूर्वमुखी मकान के दक्षिण-उत्तर सड़क,काला निर्बल, उभरे गाल, साहित्य, षास़्त्र का ज्ञान, संुदर, भावुक।
वृष्चिक नवंाष-दक्षिणमुखी मकान, पूर्व-पष्च्छिम सड़क,दक्षिण पूर्व मे रोड, सूखे नख व त्वचा, स्प्रेस बाल, दुःिखयों का सहायक, गुणवान, लंबा कद, विचित्र सिर।
धनु नवंाष-पष्च्छिम मुखी मकान,दक्षिण-उत्तर सड़क,
गांव का मुखिया, संतानहीन, बली षरीर, चमकदार स्त्रियों का प्रिय, षास्त्रज्ञ, सदाचारी।
मकर नवांष-उत्तरमुखी मकान ,पूर्व-पष्च्छिम सड़क, किसी सदस्य की विकलांग संतान, पत्नी का गुलाम, गोरा, चैड़ा माथा, षत्रुहन्ता, बली, साहसी, सेक्सी व भोगी।  
कुंभ नवांष-पष्च्छिम मुखी मकान,दक्षिण-उत्तर सड़क, काला, षास्त्रों का ज्ञाता, कडे़ बाल। 
मीन नवंाष-दक्षिणमुखी मकान, पूर्व-पष्च्छिम सड़क, चीते जैसा मुख, घुंघराले बाल, राजप्रिय, मृगों व सर्प का हत्यारा, पेड़ के नीचे सैन्य सभा।
मेश नवंाष-पष्च्छिम मुखी मकान,दक्षिण-उत्तर सड़क, पड़ोसी के विकलांग संतान, बकरे जैसा चेहरा व आंखें, गांव मे यौन सुख ले, पत्नी का सहायक,पित्त रोगी।
वृश नवांष-उत्तरमुखी मकान ,पूर्व-पष्च्छिम सड़क, सामने नहर, राजा, सेनापति, चैड़ी अंाखें, मजबूत दांत।
मिथुन नवंाष-पूर्वमुखी मकान के दक्षिण-उत्तर सड़क, घर का एक सदस्य विकलांग, भूरे दांत, प्रसिद्ध, उत्तम पत्नी, धनी। 
मीन लग्न-
कर्क नवांष-सुंदर देह, दयालु, पत्नी का प्रिय, चंचल, बड़ी नाक, मांसाहारी।
सिंह नवंाष-पूर्वमुखी मकान के दक्षिण-उत्तर सड़क, सुुदर, वन पर्वतों मे घूमें।
कन्या नवंाष-ंपष्च्छिम मुखी मकान, पूर्व-पष्च्छिम सड़क, पष्च्छिम मुखी मकान,दक्षिण-उत्तर सड़क, स्वतंत्र, षिक्षित,गुणवान, संुदर नेत्र।
तुला नवंाष-पष्च्छिम मुखी मकान,दक्षिण-उत्तर सड़क,गुणवान, बड़ी नाक, राजनीतिज्ञ।
वृष्चिक नवंाष-उत्तरमुखी मकान पूर्व-पष्च्छिम सड़क, परिवार मे विकलांग सदस्य, लंबा, अधीर लंबा, अत्याचारी छोटी नाक, सुंदर नेत्र।
धनु नवंाष-पूर्वमुखी मकान के दक्षिण-उत्तर सड़क, सुंदर, यषस्वी, छोटा सिंर, सज्जन, मंत्री का कार्य।
मकर नवांष-दक्षिणमुखी मकान, पूर्व-पष्च्छिम सड़क, स्वाभिमानी, मंत्री, दुःख भोगे, सभी धर्म माने।
कुंभ नवांष-पष्च्छिम मुखी मकान,दक्षिण-उत्तर सड़क,लंबा बड़ा सिर, कम पुत्र, निर्बल देह, योद्धा।
मीन नवंाष-उत्तरमुखी मकान पूर्व-पष्च्छिम सड़क, मार्ग मे विश्णु मंदिर, नाटा, साहसी, चैड़ा सीना, यषस्वी, गुणवान, उज्जवल, उदार।