बड़ी इलायची के औषधीय गुण


 


प्रकृति से पाये जाने वाले सभी उपहारों में गुण-दोषें दोनो ही समाहित होते है, उन्ही में से बड़ी इलायची के सुखाये हुए फल और बीज व्यंजनों में मसाले के रूप में प्रयोग किया जाता है। इसे काली इलायची, भूरी इलायची, लाल इलायची, नेपाली इलायची या बंगाल इलायची भी कहते हैं। आयुर्वेद तथा यूनानी उपचार में इसके बीजों के लगभग वे ही गुण कहे गए हैं जो छोटी इलायची के बीजों के। परंतु बड़ी इलायची छोटी से कम स्वादिष्ट होती है। बड़ी इलायची के फल, सुगंध और काले रंग के बीजों से भला कौन अपरिचित हो सकता है। रसोई में इसका प्रयोग मसालों से लेकर मिठाइयों तक में किया जाता है। इसके बीजों का प्रयोग मसालों के रूप में किया जाता है। अधिकतर लोग मात्र इतना ही जानते हैं कि बड़ी इलायची का प्रयोग मसाले में ही होता है और बड़ी इलायची का सेवन व्यंजन को स्वादिष्ट बनाता है, लेकिन सच यह है कि बड़ी इलायची का औषधीय गुणों के लिए प्रयोग भी किया जाता है। 
- बड़ी इलायची पित्त शांत करने वाली, नींद लाने वाली, भोजन में रूचि पैदा करने काम करती है। यह हृदय एवं लीवर को स्वस्थ बनाती है। बड़ी इलायची भूख बढ़ाती है, भोजन को पचाती है, मुंह के बदबू को दूर करती है। यह पेट की गैस को खत्म करती है, उल्टी बंद करती है, घावों को भरती है। इसके प्रयोग से पेशाब खुल कर आता है, बुखार उतर जाता है।
- बड़ी इलायची खाने से सिरदर्द और थकावट दूर हो जाते है। इसे पीसकर इसमें शहद में मिलाकर लें। इसका सेवन करने से घबराहट, सिरदर्द और थकावट नहीं होती। इसके अलावा इसे खाने से दांतों, सांसों की दुर्गंध और मसूड़ों की इन्फेक्शन से भी लाभ मिलता है।
- रोजाना बड़ी इलायची का सेवन करने से ब्लड प्रैशर का समस्यां में राहत मिलता है। 
- बड़ी इलायची शरीर में एंटीऑक्सीडेंट के स्तर को बढ़ाती है। जिसके कारण शरीर का पाचन चंत्र मजबूत होता है। इसके अलावा रोजाना इसके सेवन से इम्यूनिटी सिस्टम मजबूत होता है। जिससे बैक्टीरिया और वाइरल इंफेक्शन कम हो जाते है।
- बडी इलायची आपके त्वचा के लिए बहुत लाभकारी है। इसे खाने से त्वचा में निखार तो आता है। इसके अलावा इसे खाने से चेहरे पर निकले मुहासे भी ठीक हो जाते है। 
- बड़ी इलायची बालों को लंबा, काले, घने बनाने में सहायक होता है। रोजाना इसका सेवन करने से बाल झड़ना भी बंद हो जाते है। बड़ी इलायची में एंटी ऑक्सीडेंट्स गुण होते जो बालों की समस्यां के लिए बहुत लाभकारी है।
- बड़ी इलायची को पीसकर शहद में मिलाकर मुँह के छालों पर लगाने से मुंह के छाले ठीक होते हैं।
- बड़ी इलायची को पीसकर ललाट पर लेप करने से एवं बीजों को पीसकर सूंघने से सिरदर्द में लाभ होता है।
- बड़ी इलायची और लौंग तेल को बराबर-बराबर मात्रा में लेें। इसे दांतों पर मलने से दांत का दर्द कम हो जाता है।
- दो ग्राम सौंफ के साथ बड़ी इलायची के 8-10 बीजों का सेवन करने से पाचन-शक्ति बढ़ती है।
- अधिक केले खाने पर यदि अजीर्ण हो जाए तो 1-2 बड़ी इलायची खाने से पाचन ठीक हो जाता है।
- बड़ी इलायची बीज के चूर्ण और सोंठ के चूर्ण को समान मात्रा में मिला लें। इसे 5 ग्राम मात्रा में सेवन करने से पाचन शक्ति बढ़ती है।
- बड़ी इलायची के 5 ग्राम बीज चूर्ण को काले नमक के साथ सेवन करने से पेट दर्द और पेट की गैस में लाभ होता है।
- 5 ग्राम बड़ी इलायची चूर्ण को शहद के साथ मिलाकर खाने से पेट दर्द में लाभ होता है।
- 1-2 बड़ी इलायची के चूर्ण को दिन में तीन बार नियमित सेवन करने से पेट के दर्द में आराम होता है।