महाराष्ट में राजनीतिक संकट बना हुआ है

महाराष्ट में सरकार बनाने के दांवपेच का दौर चल रहा है इसी बीच महाराष्ट के राज्यपाल भगत सिंह ने प्रदेश की दूसरी सबसे बड़ी पार्टी शिवसेना से सरकार बनाने के बारे में पूछा है।एनसीपी नेता नवाब मलिक ने कहा कि अगर गवर्नर शिवसेना को सरकार बनाने का दावा करने के लिए आमंत्रित करते हैं तो हम अपने अगले कदम के बारे में सोचेंगे। अभी हमें शिवसेना से कोई प्रस्ताव नहीं मिला है। कांग्रेस और राकांपा मिलकर अंतिम फैसला लेंगे जिसे पवार साहब द्वारा घोषित किया जाएगा।
उन्होंने शिवसेना से मांग करते हुए कहा कि हमने 12 नवंबर को अपने विधायकों की बैठक बुलाई है। यदि शिवसेना हमारा समर्थन चाहती है, तो उन्हें यह घोषणा करनी होगी कि उनका भाजपा से कोई संबंध नहीं है और उन्हें राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) से हाथ खींचना होगा। उनके सभी मंत्रियों को केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा देना होगा।
इससे पहले भाजपा ने महाराष्ट्र में सरकार नहीं बनाने का फैसला किया है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि पार्टी महाराष्ट्र में सरकार नहीं बनाएगी। उन्होंने कहा कि शिवसेना ने जनादेश का अपमान किया है। वहीं, महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने शिवसेना से सरकार बनाने के बारे में पूछा है। 
  


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पक्षी आपका भाग्य बदले

परिवर्तन योग से करें भविष्यवाणी

जेल जाने के योग