दो अंतरराज्यीय पच्चीस हजार इनानिया वाहन चोर गिरफ्तार

झांसी। जनपद की थाना नवाबाद व स्वाट टीम ने अंतराज्यीय चार पहिया वाहन चोर गिरोह के कार सवार दो सदस्यों को उस समय दबोच लिया जब वह चोरी की कारों के लिए ग्राहक तलाशने जा रहे थे। टीम ने दोनों की निशानदेही पर विविध स्थानों पर छिपाकर रखी चोरी की आधा दर्जन कीमती लग्जरी बिना नम्बर की कारों के अलावा चोरी में प्रयुक्त होन वाले लॉक कोडिंग मशीन, लोहा काटने की मशीन व कई मास्टर चाबियां बरामद कर लीं। इस गिरोह के तीन सदस्य पहले से जेल में बंद हैं।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डा. ओ.पी. सिंह ने पत्रकारों को बताया कि थाना नवाबाद प्रभारी निरीक्षक विनोद कुमार मिश्रा व स्वाट प्रभारी जितेन्द्र सिंह तक्खर व मंडी चैकी प्रभारी सुरेंद्र सिंह व चैकी प्रभारी बजरंग कालोनी अमन कुमार अपनी-अपनी टीमों के साथ बदमाशों की तलाश कर रहे थे। इस दौरान उन्हें जानकारी मिली कानपुर मार्ग पर मेडिकल वाई पास के पास मुरैना म.प्र. के अम्बाय थाना अंतर्गत पचासा ग्राउण्ड निवासी मुकेश जाटव और रंजीत सिंह चैहान चोरी के वाहनों को ठिकाने लगाने का प्रयास कर रहे हैं। इस पर संयुक्त टीम ने बताए गए स्थान पर घेराबंदी कर एक कार में सवार उक्त दोनों को दबोच लिया। पूछताछ के बाद दोनों की निशानदेही पर टीम ने विविध स्थानों पर छिपी खड़ीं महिंद्रा स्कॉर्पियो, मारुति स्विफट डिजायर, मारुति स्विफट समेत आधा दर्जन कारें एवं लॉक कोडिंग मशीन, लोहा काटने की मशीन व कई मास्टर चाबियां बरामद कर लीं। एसएसपी ने बतया कि पकड़े गए वाहनों में एक वाहन चोरी करने के लिए इस्तेमाल किया जाता था। एसएसपी ने बताया कि बदमाश पहले ड्रिल मशीन से कार के दरवाजों का लॉक काटते और फिर लाक कोडिंग मशीन का उपयोग कर लॉक डिकोड कर कार उड़ा ले जाते थे।
एसएसपी ने बताया कि गिरोह झांसी, ग्वालियर, आगरा, भोपाल, राजस्थान, गुना जैसे कई शहरों में घूमघूम कर लग्जरी गाडियों को उड़ा कर विभिन्न प्रदेशों में उचित सौदा होने पर बेचकर मौज मस्ती करते थे। बरामद कारों में से एक सीपरी बाजार, दो गुना, एक निबाड़ी, एक धौलपुर, एक आगरा से उड़ाई गयी हैं। उन्होंने बताया कि पकड़े गए बदमाशों में से एक मुकेश जाटव पर पच्चीस हजार रुपए का इनाम है। मुकेश पर चैदह व रंजीत पर विविध थानों मेें सात मुकदमें दर्ज हैं। पुलिस द्वारा यह पता लगाया जा रहा है कि इस गिरोह के तार झांसी में किससे जुड़े थे और इन्होंने चोरी की कारें कहां-कहां बेची हैं। इस सराहनीय कार्य के लिए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक  झांसी द्वारा दोनों टीमों को 10 हजार रुपए व पुलिस उपमहानिरीक्षक परिक्षेत्र झांसी की तरफ से 15 हजार इनाम की घोषणा की है।