उत्पाद सामान्य सुविधा केन्द्र

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा संचालित एक जनपद एक उत्पाद सामान्य सुविधा केन्द्र सीएफसी योजनान्तर्गत काष्ठ कला (वुडवर्क) कलस्टर जिसमें टेस्टिंग लैब, डिजाईज डेवलपमेंट एण्ड टेªनिंग सेन्टर तकनीक अनुसंधान एवं विकास केन्द्र, उत्पाद प्रर्शन सहविक्रय केन्द्र, राॅ-मैटेरियल बैंक/कामॅन रिसोर्स सेन्टर, कामन प्रोडक्शन/प्रोसेसिंस सेन्टर, काॅमन लाॅजिस्टिक, सूचना संग्रह, विश्लेषण एवं प्रसार केन्द्र, पैकेजिंग, लेबिलिंग एवं बार कोडिंग की सुविधाये होंगी, की सीएफसी में एसपीवी के गठन हेतु आवेदन पत्र आमंत्रित किये जाते है। 
 संस्था में न्यूनतम 20 सदस्य होने चाहिए, कुल सदस्यों में न्यूनतम दो तिहाई सदस्य ओडीओपी उत्पाद से सम्बन्धित होने चाहिए, संस्था संक्षम पंजीयन प्राधिकारी के यहां पंजीकृत होनी चाहिए, संस्था के संविधान में सम्बन्धित उत्पाद से जुड़े हुए उत्पाद धारको तथा राज्य सरकार के एक प्रतिनिधि को सदस्य के रूप में शामिल करने के सुस्पष्ट प्राविधान होने चाहिए, संस्था के किसी भी सदस्य के पास संस्था के कुल शेयरों में से 10 प्रतिशत से अधिक शेयर नही होना चाहिए, योजनान्तर्गत स्वीकुत की जाने वाली परियोजनाओं के संचालन, प्रबन्धन एवं रख-रखाव का दायित्व सम्बन्धित एसपीवी का होगा तथा इसके संचालन प्रबन्धन एवं रख-रखाव पर आने वाले किसी भी प्रकार के आवर्ती व्यय इस योजान्तर्गत वहन नही किये जायेगे। अवधारणात्मक टिप्पणी (कन्सेप्ट नोट) के साथ सम्बन्धित फार्म जमा करेंगे, परियोजना हेतु समुचित विनिर्दिष्ट प्रयोजन हेतु उपयुक्त तथा भार विवाद रहित भूमि उपलब्ध कराने का दायित्व सम्बन्धित एसपीवी का होगा। परियोजना की स्थापना हेतु प्रस्तावित भूमि या तो एसपीवी के स्वामित्वाधीन होगी अथवा न्यूनतम 15 वर्षो हेतु लीज पर ली जा सकेगी। परियोजना लागत में भूमि की लागत किसी भी दशा में 25 प्रतिशत से अधिक आंकलित नही की जायेगी। भूमि की लागत में उक्त सीमा से अधिक व्यय भार एसपीवी द्वारा वहन किया जायेगा। एसपीवी द्वारा भूमि को राज्य सरकार के पक्ष में न्यूनतम 15 वर्षो तक बन्धक रखना होगा।
 उपरोक्त के सम्बन्ध में अधिक जानकारी हेतु इच्छुक आवेदक कार्यालय जिला उद्योग एवं उद्यम प्रोत्साहन केन्द्र रायबरेली में 25 जनवरी 2020 तक आवेदन-पत्र प्राप्त करना सुनिश्चित करें।