ओली के बयान पर इकबाल अंसारी बोले, हनुमान जी का गदा चला तो तबाह हो जाएगा नेपाल

अयोध्या। नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने भगवान श्रीराम पर बेतुका बयान देकर बवाल मचा दिया है। इस पर मंगलवार को बाबरी मस्जिद मामले में पक्षकार रहे इकबाल अंसारी ने तीखा बयान दिया है। इकबाल अंसारी ने कहा कि राम के सेवक हनुमान जी को गुस्सा आया तो नेपाल नक्शे से नेस्तोनाबूत हो जाएगा, क्योंकि अयोध्या में भगवान राम के साथ हनुमान जी भी विराजमान है। यदि हनुमान जी को गुस्सा आ गया तो नेपाल तबाह और बर्बाद हो जाएगा। इकबाल अंसारी ने कहा कि अयोध्या का सम्मान सारी दुनिया के लोग करते हैं, जो आज से नहीं बल्कि पुरातन सभ्यता से चला रहा है। उन्होंने कहा कि अयोध्या धर्म की नगरी है और यहां पर सभी धर्म व जाति के देवी देवता विराजमान है। उन्होंने कहा कि अयोध्या का जो महत्व है वह नेपाल के प्रधानमंत्री नहीं जानते। प्रधानमंत्री ओली को धर्म के बारे में जानकारी नहीं है। नेपाल में हिंदू विरोधी कार्य किया जाता है। वहीं नेपाल के प्रधानमंत्री अयोध्या के बारे में नहीं जानते न ही वह अयोध्या कभी घूमे हैं। अगर कभी अयोध्या आए होते तो उन्हें यह जरूर मालूम होता कि यहां पर देवताओं का वास है। इकबाल अंसारी ने कहा कि अयोध्या को गलत कहने का अंजाम बहुत बुरा होगा। इसलिए वहां के प्रधानमंत्री पहले धर्म के बारे में जाने, क्‍योंकि अयोध्या राम की नगरी है। जहां हनुमान जी भी विराजमान है और अगर हनुमान जी को गुस्सा आ गया तो नेपाल तबाह हो जाएगा और पता भी नहीं लगेगा कि यह देश कहा चला गया। नेपाल के पीएम ओली ने दिया ये बयान केपी शर्मा ओली शर्मा ने दावा किया है कि उत्तर प्रदेश की जो अयोध्या है वह नकली है और नेपाल में ही राम का जन्म हुआ था। इसलिए असली अयोध्या नेपाल में है। ओली ने यह भी कहा है कि भारत ने सांस्कृतिक अतिक्रमण किया है। साथ ही भगवान राम को नेपाली कहा है। (पक्षकार बाबरी मस्जिद इकबाल अंसारी)