शहीदों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा: डा. दिनेश शर्मा

प्रदेश के उपमुख्यमंत्री डा. दिनेश शर्मा ने जनपद रायबरेली ग्राम वनपुरवा पहुंचकर कानपुर में हुई पुलिस दबिश के दौरान हुई दुर्भाग्यपूर्ण घटना में शहीद पुलिस जवान महेशचन्द्र यादव के चित्र पर पुष्प आर्पित कर अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए शहीद के शोक संतप्त परिजनों से भेंट कर अपनी गहरी संवेदना व्यक्त की। उन्होंने कहा कि दुःख की इस घड़ी में राज्य सरकार शहीद पुलिस कर्मियों के परिजनों के साथ है। पुलिस के वीर जवान महेशचन्द्र यादव ने जिस मजबूती के साथ अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन किया है, उसके प्रति हम सबकी विनम्र श्रद्धांजलि है। उपमुख्यमंत्री ने शहीद महेशचन्द्र यादव के परिजनों को 1 करोड़ रुपए की आर्थिक सहायता जिसमें 80 लाख शहीद की पत्नी सुमन देवी व 20 लाख शहीद के माता राम दुलारी पिता देवनारायण यादव को भेजी गई आर्थिक सहायता का प्रमाण पत्र दिया। उन्होंने प्रदेश सरकार द्वारा सभी शहीदों के परिवार को असाधारण पेंशन तथा परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की भी घोषणा की जा चुकी है।
 उपमुख्यमंत्री नें कहा कि शहीदों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। उन्होंने आश्वस्त किया कि घटना के अपराधियों को बख्शा नहीं जाएगा और दोषियों को सख्त से सख्त दण्ड दिया जाएगा। उन्होंने बहादुर जवानों की शहादत को नमन करते हुए कहा कि शोक की इस घड़ी में प्रदेश सरकार शहीदों के परिजनों के साथ है। उपमुख्यमंत्री ने घटना को दुःखद बताते हुए कहा कि वरिष्ठ पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी घटना को अंजाम देने वाले अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए लगातार छापेमारी कर कार्यवाही की जा रही है। अनेक टीमें गठित की गई हैं। उन्होंने कहा कि पुलिस के बहादुर जवानों ने स्वयं की परवाह किए बगैर दिन-रात में कोई अन्तर महसूस न करते हुए प्रत्येक स्थिति में तत्परता और मजबूती के साथ लगातार काम करते हुए अपने कर्तव्यों का निर्वहन किया है। 
उप मुख्यमंत्री डा. शर्मा ने कहा, सरकार माफिया और आपराधिक प्रकृति के तत्वों के खिलाफ जो अभियान वर्तमान में चलाया जा रहा है, उसी के क्रम में यह टीम दबिश देने गई थी और उस दौरान यह दुर्भाग्यपूर्ण घटना घटी। उपमुख्यमंत्री ने पुलिस के बहादुर जवान महेशचन्द्र यादव के बलिदान और शहादत को कोटि-कोटि नमन करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश की 24 करोड़ जनता की सुरक्षा के लिए हमारे जवान प्रतिबद्ध हैं। राज्य सरकार अपने हर नागरिक की सुरक्षा के साथ-साथ शासकीय व्यवस्था के सुचारु संचालन के लिए उत्तरदायी प्रत्येक कर्मी और उसके परिवार के सुख-दुःख में सदैव उनके साथ है। जिन लोगों ने भी इस घटना को अंजाम दिया है, उन्हें कानून के मुताबिक इस घटना की सजा भी भुगतनी होगी। 
 इस दौरान एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह, विधायकगण सर्वश्री दल बहादुर कोरी, राम नरेश रावत, जिलाधिकारी शुभ्रा सक्सेना व पुलिस अधीक्षक स्वप्निल ममगाई, अपर जिलाधिकारी प्रशासन राम अभिलाष, अपर पुलिस अधीक्षक नित्यानन्द राय, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 संजय कुमार शर्मा, एसडीएम जीत लाल सैनी, एडी सूचना प्रमोद कुमार आदि ने भी शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदनाए व्यक्त की है।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पक्षी आपका भाग्य बदले

परिवर्तन योग से करें भविष्यवाणी

जेल जाने के योग