संदेश

उच्चशिक्षा हेतु फिनलैंड एवं नीदरलैंड के तीन विश्वविद्यालयों में चयनित

चित्र
सिटी मान्टेसरी स्कूल , गोमती नगर ( प्रथम कैम्पस ) लखनऊ के मेधावी छात्र अभ्युदय सिन्हा ने फिनलैंड एवं नीदरलैंड के तीन प्रतिष्ठित विश्वविद्यालयों में चयनित होकर लखनऊ का नाम गौरवान्वित किया है , जिसमें फिनलैंड की एल . यू . टी . यूनिवर्सिटी व हैम्क हेम यूनिवर्सिटी ऑफ अप्लाडल साइन्सेज एवं नीदरलैण्ड की सक्सियन यूनिवर्सिटी शामिल है। अभ्युदय इन प्रतिष्ठित विश्वविद्यालयों में से अपने पसंद के विश्वविद्यालय में कम्यूटर साइन्स की उच्च शिक्षा प्राप्त करेगा। अभ्युदय ने इस सफलता का सम्पूर्ण श्रेय सी . एम . एस . के अपने शिक्षकों व विद्यालय के शैक्षिक वातावरण को दिया है। सी . एम . एस . संस्थापक डा . जगदीश गाँधी ने विद्यालय के इस मेधावी छात्र के उज्जवल भविष्य की कामना की है। सी . एम . एस . एस . ए . टी . ( सैट ) एवं एडवान्स प्लेसमेन्ट ( ए . पी .) टेस्ट सेन्टर भी है जो उत्तर प्रदेश एवं आसपास के अन्य राज्यों के छात्रों को विश्व के सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालयों में स्कॉलरशिप के साथ उच्च

सुभाष चन्द्र बोस ने गांधी जी को रेडियो पर किया राष्ट्रपिता का सम्बोधन: इं. वीरेन्द्र यादव

चित्र
नेता जी सुभाष चन्द्र बोस की जयन्ती समाजवादी पार्टी मुख्यालय, रायबरेली में मनायी गयी।  पार्टी की ओर से उनके चित्र पर पुष्प माला अर्पित किये गये एवं एक गोष्ठी का आयोजन किया गया। गोष्ठी की अध्यक्षता जिलाध्यक्ष इं. वीरेन्द्र यादव एवं संचालन जिला महामंत्री अरशद खान ने किया। गोष्ठी में बोलते हुए जिलाध्यक्ष इं. वीरेन्द्र यादव ने कहा, यद्यपि गांधी जी और नेता जी के विचारों में कभी-कभी भिन्नता रहती थी। गांधी जी के साथ वैचारिक मतभेद के कारण बोस ने कांग्रेस अध्यक्ष पद से त्याग-पत्र दे दिया था, इसके बावजूद सुभाष चन्द्र बोस ने 6 जुलाई 1944 को महात्मा गंधी को ‘राष्ट्रपिता’ के रूप में सम्बोधित किया।  सपा के प्रान्तीय नेता दादा ओपी यादव ने कहा, नेता जी ने आजादी के संघर्ष के दौरान नारा दिया था कि तुम मुझे खून दो, मैं तुम्हें आजादी दूँगा। नेता जी ने जय हिन्द व दिल्ली चलो जैसे क्रान्तिकारी नारे दिये।  द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान सविनय अवज्ञा आन्दोलन में भाग लेने के कारण कैद कर नजरबन्द कर लिया गया। समाजवादी व्यापार सभा के जिलाध्यक्ष मुकेश रस्तोगी ने कहा, नेता जी को 1925 में क्रानितकारी आन्दोलनों से सम्बन्

इण्टरनेशनल इंग्लिश ओलम्पियाड में. छात्रा को गोल्ड मैडल

चित्र
सिटी मोन्टेसरी स्कूल , राजेन्द्र नगर ( प्रथम कैम्पस ) लखनऊ की कक्षा -3 की मेधावी छात्रा जैनब फातिमा ने इण्टरनेशनल इंग्लिश ओलम्पियाड में गोल्ड मेडल अर्जित कर विद्यालय का नाम गौरवान्वित किया है। यह प्रतियोगिता साइन्स ओलम्पियाड फाउण्डेशन , नई दिल्ली के तत्वावधान में आयोजित हुई। इस अन्तर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता में भारत समेत कई देशों केे छात्रों ने प्रतिभाग किया तथापि सी . एम . एस . राजेन्द्र नगर ( प्रथम कैम्पस ) की इस मेधावी छात्रा ने अपने मेधात्व व अंग्रेजी भाषा के उत्कृष्ट ज्ञान का शानदार प्रदर्शन कर विद्यालय का नाम रोशन किया है। इस उपलब्धि हेतु आयोजकों ने जैनब को गोल्ड मेडल व प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया। सी . एम . एस . संस्थापक डा . जगदीश गाँधी ने इस प्रतिभाशाली छात्रा के उज्जवल भविष्य की कामना की है। अपने प्रत्येक छात्र को मातृ भाषा हिन्दी के साथ - साथ अंग्रेजी भाषा का सर्वश्रेष्ठ ज्ञान प्रदान कर रहा है , साथ ही वैज्ञानिक युग के महत्व को स्वीकारते

समरसता भोज में समाज के सभी वर्गों ने की शिरकत

चित्र
राणा बेनी माधव स्मारक समिति, रायबरेली द्वारा आयोजित समरसता भोज में समाज के सभी वर्गों ने शिरकत की। समरसता भोज के आयोजन में सर्वप्रथम समिति के अध्यक्ष इंद्रेश विक्रम सिंह वरिष्ठ उपाध्यक्ष राघवेंद्र प्रताप सिंह, नागेश सिंह, पूर्व जज आरबी सिंह, वरिष्ठ अधिवक्ता आईबी सिंह, उप जिलाधिकारी लालगंज अजीत प्रताप सिंह आदि ने दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम की शुरुआत की। तत्पश्चात अमर सेनानी राना बेनी माधव के चित्र पर उपस्थित समस्त जनों ने माल्यार्पण एवं पुष्पा अर्चन कर अपनी भावांजलि समर्पित की।  राणा बेनी माधव स्मारक  समिति द्वारा राणा की जयंती के पावन अवसर पर जनपद स्तर पर आयोजित विभिन्न प्रतियोगिता में सहभागिता करने वाले न्यू स्टैंडर्ड पब्लिक स्कूल के प्रबंध निदेशक डॉक्टर शशिकांत शर्मा, न्यू विजन के शिक्षक संदीप सिंह, मदर टेरेसा के प्रबंधक ओपी श्रीवास्तव, विबग्योर इंटर कॉलेज के प्रबंधक मथुरा प्रसाद को सम्मानित किया गया। वहीं दैनिक जागरण  अमेठी के वर्तमान ब्यूरो चीफ दिलीप सिंह को राणा समिति द्वारा पत्रकारिता जगत में उनके अतुलनीय योगदान हेतु सम्मानित किया। समरसता भोज में समिति के  विधायक श्याम सुंदर भारती

मोटे अनाज सेहत के साथ ही कम लागत पर होते हैं तैयार

चित्र
मोटे अनाज सेहत के लिए बेहतर होते हैं। पेट की समस्या से जूझ रहे लोगों को यह अनाज काफी फायदे मंद होते हैं। इसके साथ ही किसान कम लागत पर इन्हें तैयार कर लेते हैं। अंतर्राष्ट्रीय मिलेट महोत्सव में पहुंचे कृषि सचिव अनुराग यादव ने उक्त विचार व्यक्त किए। भारत माता के चित्र पर माल्यार्पण करने के साथ ही दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम के अतिथि कृषि सचिव  व आयोजक स्नातक एमएलसी अवनीश सिंह ने कार्यक्रम का शुभारंभ किया। कृषि सचिव ने कहा कि सरकार किसानों को मोटे अनाज पैदा करने में हर सम्भव मदद कर रही है। किसान योजनाओं का लाभ लेकर बेहतर उत्पादन करें। रायबरेली क्लब में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय मिलेट महोत्सव में आए हुए अतिथियों का स्वागत करते हुए एमएलसी इं. श्री सिंह ने कहा कि आज मोटे अनाजों को प्रयोग बढ़ रहा है। यह अनाज सेहत के साथ ही कम खर्च पर तैयार होते हैं। रासायनिक उर्वरक के चलते फसलें काफी प्रभावित हो रही है। ऐसे में किसान अगर मोटे अनाज की पैदावार करेगा तो उसे खाद का उपयोग कम करना पड़ेगा। साथ ही उसकी उपज को बेहतर दाम भी मिलेगा। महोत्सव में आए हुए 50 प्रगतिशील किसानों को सम्मानित किया गया। एमएलसी श्री सिं

समाजवाद के पोषक थे जनेश्वर मिश्र

चित्र
समाजवादी चिन्तक पूर्व केन्द्रीय मंत्री जनेश्वर मिश्र की 13वीं पुण्य तिथि रायबरेली सपा जिला मुख्यालय में मनायी गयी। इस अवसर पर जनेश्वर मिश्र के चित्र पर पुष्प अर्पित करने के बाद एक गोष्ठी का आयोजन किया गया। गोष्ठी की अध्यक्षता जिलाध्यक्ष इं. वीरेन्द्र यादव एवं संचालन महामंत्री अरशद खान ने किया। गोष्ठी को सम्बोधित करते हुए जिलाध्यक्ष श्री यादव ने कहा कि जनेश्वर मिश्रा समाजवाद के पोषक थे।  डा0 राम मनोहर लोहिया के विचारों पर चलने के कारण उन्हें लोग छोटे लोहिया के नाम से पुकारते थे। बछरावाँ विधायक श्याम सुन्दर भारती ने कहा कि जनेश्वर मिश्र कई बार सांसद व केन्द्रीय मंत्री बनी। पूर्व विधायक रामनरेश यादव ने कहा कि जनेश्वर मिश्रा ने समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव का पूरे मनोयोग से सहयोग किया, उनकी मृत्यु के बाद मुलायम सिंह यादव ने उ0प्र0 में सबसे बड़ा पार्क जनेश्वर मिश्रा के नाम पर बनाया। सेन्ट्रल बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष एवं प्रान्तीय सपा नेता दादा ओपी यादव ने कहा जनेश्वर मिश्र छात्रों एवं युवाओं को हमेशा अन्याय के विरूद्ध संघर्ष के लिए प्रेरित करते थे। पूर्व पालिकाध्यक्ष हाज

इण्टरनेशनल स्कूल क्रिकेट लीग सी.एम.एस. में 27 जनवरी से

चित्र
     सिटी मोन्टेसरी स्कूल, कानपुर रोड कैम्पस, लखनऊ के तत्वावधान में अन्तर्राष्ट्रीय स्कूल क्रिकेट लीग (आई.एस.सी.एल.-2023) का भव्य आयोजन 27 जनवरी से 1 फरवरी 2023 तक किया जा रहा है, जिसमें दक्षिण अफ्रीका, श्रीलंका, जिम्बाब्वे, ओमान, नेपाल एवं भारत के विभिन्न प्रान्तों से प्रतिष्ठित विद्यालयों की 16 क्रिकेट टीमें प्रतिभाग कर रही हैं। यह अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट प्रतियोगिता विश्व शान्ति व विश्व एकता को समर्पित है। यह जानकारी सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी श्री हरि ओम शर्मा ने दी है। श्री शर्मा ने बताया कि क्रिकेट के इस महाकुंभ में देश-विदेश के बाल खिलाड़ियों को अपनी खेल प्रतिभा को निखारने व प्रदर्शित करने का अवसर तो मिलेगा ही, साथ ही साथ इसके माध्यम से आपसी सौहार्द व भाईचारे की भावना भी सारे विश्व में प्रवाहित होगी।       आई.एस.सी.एल.-2023 में देश-विदेश के बाल क्रिकेट खिलाड़ियों के उत्साहवर्धन हेतु खेल जगत की दिग्गज हस्तियाँ अपनी उपस्थिति दर्ज करायेंगी। श्री शर्मा ने बताया कि यह क्रिकेट प्रतियोगिता अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर खेली जाने वाली टी-20 प्रतियोगिताओं की तरह ही आयोजित की जायेगी