रचनात्मक व सकारात्मक कार्यो से राष्ट्र निर्माण में अपनी भूमिका अदा करें: नेहा शर्मा

जिलाधिकारी रायबरेली, नेहा शर्मा ने 73वें स्वतन्त्रता दिवस 15 अगस्त पर आयोजित मुख्य कार्यक्रम के अन्र्तगत कैम्प कार्यालय व कलेक्ट्रेट प्रांगण में ध्वजारोहरण किया तथा राष्ट्रीय ध्वज को सलामी दी। इस अवसर पर राष्ट्र गान से कलेक्टेªट परिसर गुन्जायमान हो गया। उन्होने कहा कि हम सभी लोग देश को अग्रसर करने के साथ ही राष्ट्र की एकता अखण्डता की रक्षा करने के साथ ही बालिका सुरक्षा की प्रतिज्ञा ले। उन्होने कहा कि 15 अगस्त के दिन देश स्वतन्त्र हुआ था और यह राष्ट्रीय पर्व है जो तिरंगे के गौरवशाली इतिहास के साथ ही हमारे अनगिनत देश भक्तों तथा अमर बलिदानियों जिन्होने जीवन भर संघर्ष कर जो स्वाधीनता हासिल कराई थी उसके महत्व, उनकी कुर्बानियों के साथ ही हमें अपने कर्तव्यों को स्मरण दिलाता है। उन्होने आहवान किया कि देश की आजादी को अक्षुण्ण बनाये रखने के सभी मिलजुल कर प्रयास करेें, तथा लाईन के अन्तिम छोर पर खड़े व्यक्ति को भी सम्मान दे, उसकी पूरी बात सुने तथा जनता का विश्वास पाने में आगे आये। उन्होने कहा कि स्वतन्त्रता के मूल्यो, भावनाओं, कुर्बानी आदि को याद कर हृदय से आत्मसात किया जाये। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि गरीबों मजलूमों की समस्याओं को दूर कर सक्रिय भूमिका निभाये। अभिव्यक्ति धर्म व स्वतंत्रता है इसका सही तरीके से उपयोग करें। कूड़ा कचरा गंदगी न फैलाये। विज्ञानी मानसिकता व सोच को आगे बढ़ाकर अपनी जिम्मेदारियों का भली भांति निर्वहन कर रचनात्मक व सकारात्मक कार्यो से राष्ट्र निर्माण में अपनी भूमिका अदा करें। 
  जिलाधिकारी नेहा शर्मा ने अपने सम्बोधन की शुरूवात एक कविता पाठ- ''अब कही भी न हो कोई दंगा कभी और मैली न हो फिर ये गंगा कही आओ दोस्तों मिल के खाये कसम झुकने देंगे नही तिरंगा कही'' देश भक्ति गीत गाकर जोर जार शुरूवात करते हुए कहा कि आजादी के बाद से देश और प्रदेश मे कई सफलताएं व कीर्तिमान स्थापित किए है और निरन्तर विकास की ओर बढ़ रहा है। जिलाधिकारी नेहा शर्मा द्वारा प्रदेश सरकार 'सबका साथ, सबका विकास एवं सबका विश्वास' संकल्प के साथ सभी के हित से जुड़ें निर्णय ले रही है जिससे विकास के नये रास्ते खुल रहे है और जनपद व प्रदेश तीव्र गति से आगे बढ़ रहा है। प्रदेश सरकार द्वारा समाज के विभिन्न वर्गो के तथा राज्य के समग्र विकास के लिये संचालित महत्वपूर्ण योजनाओं के बारे में विस्तार से बताया। विसंगतियो और कमियो को दूर किया जाना चाहिए। कुदरत ने भी प्रकृति मे विविधताएं देखकर प्रकृति को संुदर किया है। धर्म जाति, वर्ग, परिवार आदि से भी उठकर अनेकता व विविधता के महत्व को समझते हुए विकास की ओर बढ़े। मानव ईश्वर की श्रेष्ठ रचना है जिसमें बुद्धि विवेक दोनो है गलत और सही फैसला करने की क्षमता है अतः आत्मलोचन कर सही कार्यो व सही निर्णर्यो को नींव रखकर उसको आगे बढ़ाये। उन्होने कहा कि देश को आजादी दिलाने वाले शहीदों, देशभक्तों के जीवन मूल्यो एवं आदर्शो का स्मरण किया जाये तथा अच्छे कार्यो को सम्पादित कर महान देशभक्तों के सपनों को साकार किया जाये। उन्होने कहा कि रचनात्मक सकारात्मक कार्यो से देश व समाज आगे बढ़ता है। उन्होने कहा कि हमे अपने कतव्र्यो का निवर्हन पूर्ण ईमानदारी, निष्ठा के साथ करना चाहिए। उन्होने आहवान किया कि अमन चैन भाईचारा आपस में मेलजोल बढ़ाने तथा विकास कार्यो के सफल क्रियान्वयन हेतु सभी जनसहयोग दें। चरित्रवान, ईमानदार, कर्तव्यनिष्ठ बने तथा संकल्पों के अनुरूप स्वयं को ढालने का प्रयास करें। जिलाधिकारी ने अपने सम्बोधन का समापन एक गीत ये देश है मेरा स्वदेश है मेरा............. से किया। इससे पूर्व जिलाधिकारी नेहा शर्मा ने इस मौके पर स्वतन्त्रता संग्राम सेनानियों के परिजनो को शाल व पुष्पमाला व मिष्ठान भेंट कर सम्मान प्रकट किया। इस मौके पर एडीएम वित्त एवं राजस्व डा0 राजेश कुमार प्रजापति व एडीएम प्रशासन राम अभिलाष, नगर मजिस्टेªट जयचन्द्र पाण्डेय, वरिष्ठ कोषाधिकारी जितेन्द्र सिंह ने सम्बोधित करते हुए कहा कि यह आजादी सदैव कायम रहे, इस आजादी की धरोहर को हम सभी को सम्भालकर रखना है, और देश की एकता एवं राष्ट्रीय अखण्डता को अक्षुण्ण रखने के लिए सदैव तैयार रहना होगा। सरकार द्वारा संचालित   विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाओ एवं कार्यक्रमो के सम्बन्ध में भी अवगत कराया गया। इस अवसर पर विभ्.िान्न  विद्यालयों के छात्र-छात्राओ द्वारा देश भक्ति एवं राष्ट्रीय एकता से सम्बंधित गीत एवं कार्यक्रम प्रस्तुत किये गये। कार्यक्रम का संचालन रामेन्द्र मिश्र ने किया। मुख्य कोषाधिकारी जितेन्द्र सिंह ने भी अपने विचार व्यक्त किये। इस मौके पर सहायक निदेशक सूचना प्रमोद कुमार, प्रशासनिक अधिकारी अवधेश शर्मा, उदेय सिंह, महेश त्रिपाठी, मंजू लता, सविता देवी, जे सिंह, होमगाॅड ब्रजेश मिश्रा, निर्मल सिंह, देवेन्द्र सिंह, भारत सिंह, अर्जुन सिंह, सहित अनेक जिला स्तरीय अधिकारीगण, पत्रकार बन्धु उपस्थित रहे। इसके अलावा कलेक्ट्रट परिसर, एनआईसी भवन के पीछे वन विभाग द्वारा वृक्षारोपण जिलाधिकारी द्वारा किया गया। कलेक्ट्रेट में जिलाधिकारी नेहा शर्मा सहित कई अधिकारियों ने वृक्षारोपण भी किया। एडीएम एफआर डा0 राजेश कुमार प्रजापति द्वारा कलेक्ट्रेट में भी आम के बीस पौधों का रोपण किया गया। इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी राकेश कुमार द्वारा भी विकास भवन में झंण्डा रोहण किया गया। सभाकक्ष में कर्मचारियों को सम्बोधित किया गया। कार्यक्रम का संचालन रामेन्द्र मिश्र द्वारा किया गया।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पक्षी आपका भाग्य बदले

परिवर्तन योग से करें भविष्यवाणी

जेल जाने के योग