अंतर्राष्ट्रीय दिव्यांग दिवस हर्षोल्लास के साथ मनाया गया

परशुराम महाविद्यलाय, सिमरावारी, बीएचईएल, झांसी परिसर में 3 दिसम्बर अंतर्राष्ट्रीय दिव्यांग दिवस के अवसर पर दिव्यांगों के लिए विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान एक विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। साथ ही दिव्यांग छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती की मूर्ति पर पुष्पार्पित कर किया गया। इसके बाद छात्र-छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी। इस अवसर पर आयोजित विचार गोष्ठी में सभी ने अपने-अपने विचार व्यक्त किए। साथ ही सभी दिव्यांग छात्र-छात्राओं को उनके सराहनीय कार्यों के लिए सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के दौरान दिव्यांग मुस्कान नामदेव, अंजली यादव आदि को उनकी प्रस्तुति के लिए सम्मानित किया गया व महाविद्यालय के समन्वयक डाॅ. एस.के. श्रीवास्तव ने बताया कि अन्तर्राष्ट्रीय दिव्यांग दिवस प्रतिवर्ष 3 दिसंबर को मनाया जाता है। वर्ष 1976 में संयुक्त राष्ट्र आम सभा के द्वारा “विकलांगजनों के अंतरराष्ट्रीय वर्ष” के रूप में वर्ष 1981 को घोषित किया गया था। उन्होंने कहा कि विश्व विकलांग दिवस विकलांग व्यक्तियों के प्रति करुणा और विकलांगता के मुद्दों की स्वीकृति को बढ़ावा देने और उन्हें आत्म-सम्मान, अधिकार और विकलांग व्यक्तियों के बेहतर जीवन के लिए समर्थन प्रदान करने के लिए एक उद्देश्य के साथ मनाया जाता है। इस दौरान महाविद्यालय प्राचार्य व महाविद्यालय परिवार के प्रेमसागर जी, कुलदीप यादव, आशीष यादव, जितेन्द्र कुमार नामदेव, उमेश नामदेव, अंकुर अग्रवाल, राहुल साहू, नेहा त्रिवेदी, अमित तिवारी, पहलवान सिंह, रामलाल व संतोष आदि मौजूद रहे।