निराश्रित गरीबों को कंबल वितरित

जिलाधिकारी रायबरेली शुभा सक्सेना ने ठण्ड से ठिठुरते 120 से अधिक निराश्रित गरीबों को कंबल वितरित करके ठण्ड से राहत देर साय दिलाई। जिलाधिकारी ने महिला चिकित्सालय के सामने, बस स्टाॅप व सुपर मार्केट में बने रैन बसेरे के निराश्रित लोगों को कंबल बांटे तथा रैन बसेरों का निरीक्षण भी किया। जिलाधिकारी ने सुपर मार्केट में घूमते हुए आवारा पशुओं को देखकर नगर पालिका इओं को निराश्रित गौवंश को तत्काल गौवंश आश्रम में पहुचाए के निर्देश दिये। सुपर मार्केट स्थित रैन बसेरा में एक बच्चें के पैरों में चप्पल न होने पर जिलाधिकारी ने निराश्रित बच्चें को चप्पल दिलवाकर व एक बीमार व्यक्ति के पैर के घाव देखकर चिकित्साधिकारी मलहम व दवा दिलवाकर मानवीय संवेदनाओं का परिचय दिया तथा 10 वर्षीय बच्चा चप्पल पाकर खुश हुआ। रैन बसेरा में लाईट न होने पर नगर पालिका कर्मचारियों को कड़ी फटकार लगाते हुए कहा कि जिन रैन बसेरों में विद्युत की व्यवस्था नही है उन सभी रैन बसरों में विद्युत की भी व्यवस्था दुरूस्त किया जाये। इसके अलावा वही जलते हुए कुड़े के ढेर देखने पर चैकी इंचार्ज स्पेटर को कड़ी फटाकर लगाते हुए कुड़ा जलाने वालें के विरूद्ध प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज कराकर उसके विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जाये। जिलाधिकारी ने समस्त एसडीएम, तहसीलदारों को निर्देश दिये कि अपने-अपने क्षेत्रों में पात्र गरीबों को ठण्ड से बचने के लिए कंबल वितरित करने के साथ ही चिन्हित स्थानों जहां पर गरीब, बेसहारा लोगो बैठते है वहां अलाव की व्यवस्था करें साथ ही यह भी ध्यान दिया जाये कुड़े के ढेर को न जलाया जाये। उन्होंने रैन बसरों का भी निरीक्षण करने के निर्देश दिये है। यदि कोई बेसहारा दिखाई पड़े तो उसे रैन बसेरों में ठहराये। इसके अलावा गौशालाओं में भी भ्रमण करे तथा निराश्रित गोवंश को ठण्ड से राहत दिलाये।