पशुओं को आवारा छोड़ने वालों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही के निर्देश

जिलाधिकारी रायबरेली शुभ्रा सक्सेना के निर्देश पर निराश्रित गोवंश को पकड़ कर उन्हें गौशालाओं में भेजने व सड़कों के किनारे अतिक्रमण रोकने का अभियान जारी है। पशुपालक अपने पशुओं को किसी भी दशा में आवारा न छोड़े अन्यथा उनके विरूद्ध दण्डात्मक कार्यवाही की जायेगी। अवैध अतिक्रमण हटवाने, निराश्रित पशु पकड़ने व पाॅलीथीन जब्त करने के अभियानों को सक्रिय रखा जाये। विगत दिवस निराश्रित गोंवश के लिए गठित टीम के मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका तथा एआरटीओं द्वारा अभियान के तहत 72 निराश्रित पशुओं को डबल फाटक, कैपरगंज, रेलवे स्टेशन, अस्पताल चैराहा, मंशादेवी रोडवेज घण्टाघर आदि क्षेत्रों से पकड़ कर गौशालाओं में भेजा गया है। उन्होंने शहर में अतिक्रमण करने वालों तथा पशुओं को आवारा छोड़ने वालों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही करने के निर्देश दिये है। उन्होंने कहा कि नगर में लोगों द्वारा सड़कों के किनारे फिर से अतिक्रमण करने की शिकायत प्राप्त हो रही है। जिस पर जिलाधिकारी शुभ्रा सक्सेना ने अधिकारियों को निर्देश दिये है कि लोगों द्वारा दोबारा सड़क के किनारे अतिक्रमण करने पर अतिक्रमण हटाने के साथ ही जुमार्ना व दंडात्मक कार्यवाही की जाये। उन्होंने अभियान के तहत सुपर मार्केट, सब्जीमंण्डी, कहारो का अड्डा, मण्डियांे आदि में दुकानों में पालीथीन पाये जाने पर नियामानुसार कार्यवाही करने के निर्देश दिये। अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका बालमुकुन्द मिश्रा ने बताया कि उनके द्वारा त्रिपुला, रतापुर चैराहा सहित कई स्थानों पर अवैध अतिक्रमण को हटवाया गया है। इसके अलावा विगत माह से अबतक कई दुकानो व जगहों पर पालीथीन भी जब्त की गई है।