उ.प्र. शिक्षक पात्रता परीक्षा को निर्विघ्न, नकलविहीन व शान्तिपूर्वक सकुशल सम्पन्न कराने के निर्देश

जिलाधिकारी, रायबरेली शुभ्रा सक्सेना ने निर्देश दिये है कि उत्तर प्रदेश परीक्षा नियामक प्राधिकारी प्रयागराज द्वारा संचालित उ0प्र0 शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) जनपद के 27 केन्द्रों पर 8 जनवरी 2020 (बुधवार) को 2 सत्र पर करायी जायेगी। जिसमें प्राथमिक स्तर कक्षा 1 से 5 तक प्रातः 10ः00 बजे से 12ः30 बजे तक तथा उच्च प्राथमिक स्तर कक्षा 6 से 8 तक अपरान्ह 2ः30 बजे से 05ः00 बजे तक आयोजित की जायेगी। प्रश्नगत परीक्षा के अवसर पर कानून एवं शान्ति व्यवस्था सुनिश्चित करते हुए परीक्षा को कुशलता एवं शुचितापूर्वक सम्पन्न कराने हेतु परीक्षा केन्द्रों की भौगोलिक स्थिति के दृष्टिगत 03 अथवा 04 परीक्षा केन्द्रों पर एक सेक्टर मजिस्टेªट तथा प्रत्येक परीक्षा केन्द्रों पर दोनों पालियों हेतु एक पर्यवेक्षक तथा स्टेटिक मजिस्टेªेट प्रतिपाली अलग-अलग तैनात होगें। परीक्षा केन्द्र पर पर्यवेक्षक गोपनीय परीक्षा सामग्री स्टेटिक मजिस्टेªट से प्राप्त कर अपनी उपस्थिति में नियत समय पर गोपनीय पैकेट खुलवायेंगे और परीक्षा समाप्ति पर सामग्री के पैकेट अपनी देखरेख में सील करवायेंगे। परीक्षा समाप्ति के बाद सील्ड गोपनीय पैकेटस कोषागार रायबरेली में उसी दिन निर्देशानुसार तत्काल भेजने का प्रधान दायित्व स्टेटिक मजिस्टेªट का होगा।
 उत्तर प्रदेश प्रयागराज द्वारा संचालित उ0प्र0 शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) द्वारा जो कि जनपद के 27 निर्धारित परीक्षा केन्द्रो पर 8 जनवरी को जनपद में निर्विघ्न, नकलविहीन व शान्तिपूर्वक सकुशल सम्पन्न कराने की समुचित तैयारियां दुरूस्त रखी जाये। जिसकी तैयारियां पूरी तरह से व्यवस्थित रहें। परीक्षा केन्द्रों पर पानी, बिजली, शौचालय आदि की व्यवस्था दुरूस्त रहे। शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) परीक्षा नियामक प्राधिकारी उत्तर प्रदेश प्रयागराज व शासन के दिशा निर्देशों के अनुरूप निर्विघ्न, नकलविहनी व शान्तिपूर्वक सकुशल सम्पन्न कराने की सभी तैयारियां प्रधानाचार्य/केन्द्र व्यवास्थापन तथा पर्यवेक्षक, समन्वयी पर्यवेक्षक, अतिरिक्त पर्यवेक्षक, सेक्टर मजिस्टेªट, स्टेटिक मजिस्टेªट, सहायक पर्यवेक्षक, निरीक्षण पर्यवेक्षक, परीक्षा सहायको एवं   नोडल अधिकारी आदि पूरी कर लें तथा दिये गये दिशा निर्देशों व आदेशों को भली-भांति पढ़ लें। किसी भी प्रकार की यदि कोई कमी हो तो उसको समय रहते उसको दुरूस्त कर लें। केन्द्र पर किसी भी प्रकार का मोबाईल, केलकुलेटर, सभी प्रकार के इलेक्ट्रानिक्स गैजेटस पूरी तरह से प्रतिबन्धित है। शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) उ0प्र0 प्रयागराज व शासन द्वारा दिये गये दिशा निर्देशों को ड्यूटी में तैनात सभी सम्बन्धित आदि भली-भांति पढ़कर प्रारम्भिक परीक्षा को निर्विघ्न एवं नकलविहीन सकुशल निष्पक्ष व निर्भीक तरीके से सकुशल शान्तिपूर्ण तरीके से सम्पन्न कराना सुनिश्चित करें। 
 अपर जिलाधिकारी प्रशासन राम अभिलाष व जिला विद्यालय निरीक्षक चन्द्रशेखर मालवीय ने शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) परीक्षा की तैयारियों की सिलसिले में परीक्षा केन्द्र के प्रचार्य/प्रधानाचार्य केन्द्र व्यवस्थापक तथा सेक्टर/स्टेटिक मजिस्टेªट व सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों आदि बैठक को सम्बोधित करते हुए निर्देश दिये है कि शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) परीक्षा 8 जनवरी को कराई जा रही है। 8 जनवरी को सम्पन्न होने वाली उपरोक्त परीक्षा की सफलता के लिए कहा कि परीक्षा के दौरान कानून एवं शान्ति व्यवस्था पूरी तरह से सुनिश्चित कराते हुए परीक्षा को कुशलता एवं सुचिता पूर्वक सम्पन्न कराते हुए मजिस्टेªट सम्बन्धित अधिकारी तैनात किये गये है। जनपद में परीक्षा को देखते हुए निषेधाज्ञा अन्तर्गत धारा 144 प्रभावी है। उन्होंने ने कहा कि परीक्षा के दिन किसी भी परीक्षार्थी तथा केन्द्र के टीचर आदि को सभी प्रकार के इलेक्ट्रानिक्स गैजेटस मोबाईल, लेपटाप, कैलकुलेटर, स्लाइड रूल, इलेक्ट्रानिक्स घड़ी, सादे कागज, कापी, किताबे, नोट्स, पत्रिकाए, खाद्य सामग्री गुटखा आदि पूरी तरह से प्रतिबन्धित किया गया है। परीक्षा के दौरान क्लाक रूम परीक्षार्थियों का समान रखवाया जाये जिसके लिए टोकन की व्यवस्था अभी से कर लें यह पूरी व्यवस्था निःशुल्क रहेगी। इसके अलावा परीक्षा केन्द्रों पर पानी, बिजली, शौचालय आदि की व्यवस्था सहित पूरी तहर से साफ-सफाई की व्यवस्था दुरूस्त रहे। मजिस्टेªट सम्बन्धित अधिकारी डयूटी पर समय से पूर्व पहुचकर परीक्षा की समाप्ति तक अनवरत उपस्थित रह कर दिये गये निर्देशों का पालन करेंगे। इसके मौके पर अपर पुलिस अधीक्षक नित्यानन्द राय, न्याय सहायक बालाजी विद्यार्थी सहित केन्द्र अधीक्षक, समस्त एसडीएम, तहसीलदार, नगर मजिस्टेªट युगराज सिंह आदि अन्य अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित थे। बैठक में अपर पुलिस अधीक्षक नित्यानन्द ने सुरक्षा सम्बन्धित जानकारियां आदि भी विस्तारपूर्वक दी।