सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

सबसे अलग किस्म के गीतकार थे जमादार धीरज

नगर के वरिष्ठ कवि जमादार धीरज के निधन पर साहित्यिक संस्था गुफ्तगू की तरफ से आनलाइन शोकसभा हुई। अध्यक्ष इम्तियाज अहमद गाजी ने कहा जमादार धीरज प्रयागराज के वरिष्ठतम कवियों में से थे, उनके गीत में समाज और देश के वास्तविक संदर्भों का वर्णन मार्मिक ढंग से होता था, उनके निधन से प्रयागराज में एक खास कवि का स्थान रिक्त हो गया, जिसकी पूर्ति करना संभव नहीं होगा। श्री गाजी ने कहा कि हाल ही में उन्होंने मुझसे कहा था कि मैं अपना एक कविता संग्रह तैयार कर रहा हूं, जल्द ही प्रकाशित करने के लिए दूंगा। मनमोहन सिंह तन्हा ने कहा कि जमादार धीरज जितने अच्छे गीतकार थे, उतने ही मिलनदार और संवेदनशील इंसान भी थे। उनके काव्य सृजन और व्यक्तित्व को कभी नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। प्रभाशंकर शर्मा ने कहा कि जमादार धीरज प्रयागराज की शान थे, उनके गीत दूर-दराज के इलाकों में भी गुनगुनाए जाते हैं, उनकी विशिष्ठ शैली उन्हें अन्य गीतकारों से अलग करती है। उनकी अब तक पांच पुस्तकें प्रकाशित हुई हैं, अगली पुस्तक की तैयारी में वे लगे हुए थे। जमादार धीरज की बेटी मधुबाला गौतम ने कहा कि पिताजी कह रहे थे कि उनका लिखा हुआ बेकार नहीं

सतत विकास लक्ष्य

वैश्विक लक्ष्यों में गरीबी खत्म करना, पर्यावरण की रक्षा, आर्थिक असमानता के कम करना और सभी के लिए शान्ति एवं न्याय सुनिश्चित करना सतत विकास लक्ष्यों में शामिल है। इसमें 17 सतत विकास लक्ष्य रखे गये है। जिन्हें अधिकारी भली-भांति जानकर कार्यवाही करें। एडीजी भारत सूचकांक की महत्ता को दर्शाता है। सतत विकास के पांच वैश्विक लक्ष्यों का क्रियान्वयन शामिल है। जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव व मुख्य विकास अधिकारी अभिषेक गोयल द्वारा निर्देशित किया गया है कि उपनिदेशक क्षेत्रीय ग्राम्य विकास संस्थान, जिला विकास अधिकारी, जिला पूर्ति अधिकारी, मुख्य चिकित्साधिकारी, बीएसए, डीपीओ, डीपीआरओ, अधिशाषी अभियन्ता सिचाई-बिजली, उपायुक्त उद्योग, जिला समाज कल्याण, प्रदूषण नियंत्रण अधिकारी, वनाधिकारी, एडीएम, डीएफओ, एसपी आदि सम्बन्धित विभागों कें अधिकारियों को निर्देश दिये कि सतत विकास लक्ष्य की ओर बढ़े। इसके लिए निरन्तर लोगों को जानकारी दी जाये। जिससे गरीबी, भुखमरी पूर्णतः समाप्ति, अच्छा स्वास्थ्य और जीवन स्तर, गुणवत्तापूर्ण शिक्षा, लैगिंक समानता, साफ पानी व स्वच्छता, सस्ती और स्वच्छ ऊर्जा, आर्थिक विकास, उद्योग, नवाचार और

सात्विक ने जीता प्रथम पुरस्कार

सिटी मोन्टेसरी स्कूल, अलीगंज (द्वितीय कैम्पस), लखनऊ के कक्षा-6 के प्रतिभाशाली छात्र सात्विक श्रीवास्तव ने अन्तर-विद्यालयी स्टोरी-टेलिंग प्रतियोगिता में प्रथम पुरस्कार अर्जित कर विद्यालय का नाम गौरवान्वित किया है। यह प्रतियोगिता शैक्षिक-साहित्यिक संस्था ‘योग्यपीठ’ के तत्वावधान में आॅनलाइन आयोजित हुई।  सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी श्री हरि ओम शर्मा ने बताया कि यह प्रतियोगिता छात्रों की अभिव्यक्ति क्षमता का विकास करने, उनमें आत्मविश्वास का संचार करने एवं उनके ज्ञान को परखने के उद्देश्य से आयाजित की गई, जिसमें लखनऊ के कई प्रतिष्ठित विद्यालयों के छात्रों ने प्रतिभाग किया। प्रतियोगिता के अन्तर्गत सी.एम.एस. के इस प्रतिभाशाली छात्र ने बड़े आत्मविश्वास से कथा वाचन कर प्रथम पुरस्कार अर्जित किया। प्रतियोगिता के आयोजकों ने सी.एम.एस. के इस मेधावी छात्र की बहुमुखी प्रतिभा की भूरि-भूरि प्रशंसा करते हुए प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया।  श्री शर्मा ने बताया कि सी.एम.एस. सदैव ही विभिन्न रचनात्मक एवं सृजनात्मक प्रतियोगिताओं के माध्यम से अपने छात्रों की बहुमुखी प्रतिभा को निखारने के साथ ही ज

कभी हां कभी नां

बचपन से सुनता आ रहा हूं कि तस्वीरे बोलती हैं, इसी कारण कुछ तस्वीरे अपने मित्र से प्राप्त आपके समक्ष है। क्या अच्छा, क्या खराब सब समय-समय पर दर्ज होता रहता है। शायद इस तस्वीर देखने के बाद कुछ याद आ जाये।

वक्त ने कहां पहुचा दिया

आजम खान कभी सदन की शान हुआ करते थे, वक्त ने कहां पहुचा दिया। पुरानी फोटो मिल गई सोचा शेयर कर दूं, जब कभी अवसर मिले कोई ऐसा काम नहीं करना चाहिए कि भविष्य में पछताना पड़े।  

नीरज भारद्धाज अब सस्पेंस थ्रिलर वेब सीरीज शिकारी में

आजकल वेब सीरीज का जमाना आ गया है और सभी छोटे व बड़े सभी कलाकार इससे जुड़ रहे है। ऐसे में कई हिंदी फिल्मों और कई भोजपुरी फिल्मों में भी,बतौर हीरो काम करने वाले तथा धारावाहिक साथ निभाना साथिया में 6 वर्षों तक चिराग मोदी उर्फ मोटा भाई की भूमिका निभाने वाले बहुमुखी प्रतिभाशाली एक्टर नीरज भारद्धाज भी अब नियो फ्लिक्स के लिए बन रहे सस्पेंस थ्रिलर वेब सीरीज शिकारी में मुख्य नायक की भूमिका में जल्द ही नजर आएंगे। इसके निर्देशक तनवीर है,जोकि कई फिल्मे, वेब सीरीज, शार्ट फिल्मे कर चुके है।   नीरज भारद्धाज कहते है, नए जमाने के साथ व समय के साथ चलना चाहिए। मुझे मुख्य भूमिका के साथ-साथ काफी चैलेंजिंग रोल मिल रहा था, इसलिए कर लिया। अब मैं भले कम काम करूँगा, लेकिन बड़े और अच्छे रोल करूँगा। लेकिन आजकल तो लोग अच्छा अभिनय और रोल के बारे में बात करने के बदले फिल्म इडस्ट्री में लोगो से पहले यह पूछते है कि आप कितने कम से कम पैसे लेंगे? अब प्रोडूसर टैलेंट की बजाय पैसे को पहले देखता है। फिलहाल नीरज भारद्धाज अलग अलग प्लेटफॉर्म पर वेब सीरीज कर रहे हैं। उन्होने कहा कि वेब सीरीज करने मे ज्यादा संतुष्टी मिलती है, ये ट

मेधावी छात्रों 76 लाख रूपये की स्कालरशिप

सिटी मोन्टेसरी स्कूल, महानगर, लखनऊ के 19 मेधावी छात्रों को भारत सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा 76 लाख रूपये की स्काॅलरशिप से नवाजा गया है, जिसके अन्तर्गत प्रत्येक छात्र को चार लाख रूपये मिलेंगे। सी.एम.एस. छात्रों को यह स्काॅलरशिप विज्ञान विषय में उच्च स्तरीय शिक्षा हेतु प्रदान की जायेगी। सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी श्री हरि ओम शर्मा ने बताया कि इस स्काॅलरशिप के अन्तर्गत प्रत्येक छात्र को पाँच वर्षों तक प्रतिवर्ष 80,000/- रूपये अर्थात कुल चार लाख रुपये की धनराशि प्रदान की जाएगी।  सी.एम.एस. महानगर कैम्पस के इन मेधावी छात्रों ने इस वर्ष की आई.एस.सी. (कक्षा-12) परीक्षा-2020 में अपने मेधात्व का अभूतपूर्व परचम लहराते हुए पूरे देश में ‘टाॅप वन परसेन्ट’ मेरिट सूची में स्थान अर्जित किया है एवं इसी अभूतपूर्व प्रदर्शन हेतु विज्ञान की उच्च स्तरीय शिक्षा हेतु इस प्रतिष्ठित स्काॅलरशिप हेतु चयनित किया गया है।  श्री शर्मा ने बताया कि स्काॅलरशिप अर्जित करने वाले मेधावी छात्रों में आदर्श गोयल, अक्षत श्रीवास्तव, अंशिका सिंह, अयान अहमद, ईशान रस्तोगी, केनिशा मिश्रा, क्षितिज कैथ