कड़ी पत्ता में औषधीय गुण है

रसोई को भी औषधि का एक स्थान माना जाता है, जिस घर की गृहणी अपने परिवार को संतुलित आहार परोसती उस घर के लोगों को वैद्य अथवा डाक्टर के चक्कर नही लगाना पड़ता है। सभी घरों में दैनिक प्रयोग में आने वाले कड़ी पत्ता है, कड़ी पत्ता या मीठी नीम भी कहा जाता है। इसे मीठी नीम इसलिए कहते हैं क्योंकि इसके पत्ते नीम की तुलना में थोड़े कम कड़वे, कशैले होते हैं। कड़ी पत्ता के पेड़ पूरे भारत में पाए जाते हैं। कड़ी पत्ता का सबसे ज्यादा उपयोग खानों में खास कर महक पैदा करने के लिए किया जाता है। आयुर्वेद में बताया गया है कि कड़ी पत्ता में बहुत से औषधीय गुण होते हैं और कड़ी पत्ता से कई बीमारियों का इलाज और रोगों से बचाव भी किया जा सकता है।
1. करी पत्ती बालों में लगाना बहुत ही फायदेमंद है जैसे बालों का झड़ना, बाल सफेद होना, बाल कमजोर होना, डैंड्रफ जैसी सभी समस्याओं के लिए कड़ी पत्ता बहुत ही उपयोगी है और इसे प्रयोग करने के 4 आसान तरीके हैं।
- कड़ी पत्ता खायें, भोजन में प्रयोग करें।
- कड़ी पत्ता पीस कर बालों की जड़ों में लगायें।
- कड़ी पत्ते तेल में गर्मकर बना तेल बालों में लगायें।
- कड़ी पत्ते को पानी में उबालकर उस पानी को बालों में लगायें।
2. कड़ी पत्ता में आयरन, कैल्शियम, प्रोटीन, जैसे पोशक तत्व पाए जाते हैं, इसके अलावा कड़ी पत्ते में एंटी-डायबिटिक, एंटी-ओक्सिडेंट, एंटी-माइक्रोबियल गुण होते है इसलिए जब आप कड़ी पत्ता डाल,े खाद्य पदार्थ को खाएं तो ये पत्तियाँ अलग करके फेंकने की बजाय उसे खाना लाभदायक होता है।
3. कड़ी पत्ता की तासीर ठंडी होती है, इसलिए ये बवासीर रोग के इलाज में प्रयोग किया जाता है। कड़ी पत्ते को पानी के साथ पीसें और फिर इसे छानकर निकला हुआ पानी पीने से बवासीर, दस्त, डायरिया, पेट के रोग और पाचन संबंधित समस्याएं सही हो जाती हैं।
4. कड़ी पत्ता खाना वजन घटाने में कारगर है इसमें पाए जाने वाले फाइबर व अन्य तत्व फैट और टोक्सिन को शरीर से बाहर निकालते हैं।
5. चेहरे की स्किन प्रॉब्लम जैसे मुहांसे, रूखापन, दाग-धब्बे, फाइन लाइन दूर करने के लिए कड़ी पत्ता का फेसपैक अत्यधिक लाभदायक होता है, कड़ी पत्ता का ंिबम चंबा सूखी करी पत्ती पीसकर, गुलाब जल, मुल्तानी मिट्टी और नारियल तेल मिलाकर बनाया जाता है।
6. एनीमिया रोग यानि खून की कमी के इलाज में सबसे जरुरी चीजें आयरन और फोलिक एसिड दोनों ही में पाया जाता है इसलिए एनीमिया के मरीज को कड़ी पत्ता का भरपूर सेवन करना चाहिए, इसके लिए कड़ी पत्ता के दो-तीन पत्ते सुबह एक खजूर के साथ खाने से बहुत लाभ मिलता है।
7. अगर जी मिचला रहा हो तो, एक चैथाई कप कड़ी पत्ते का रस, आधे नीम्बू का रस और एक चुटकी चीनी मिलाकर पी जाये, तुरंत आराम मिलेगा।
8. कड़ी पत्ते का रस कीमोथेरेपी से होने वाले बुरे असर को कम करता है।
9. कड़ी पत्ता शरीर में हानिकारक कोलेस्ट्रोल लेवल को  बैलेंस रखता है। जिससे हार्ट की बीमरियों से बचाव होता है और कड़ी पत्ता इन्सुलिन लेवल कण्ट्रोल करके ब्लड शुगर स्तर को सामान्य करता है।
10. कड़ी पत्ता किडनी और लीवर के लिए बहुत फायदेमंद होता है और शरीर के इन दो खास अंगों को स्वस्थ रखना चाहते हों तो कड़ी पत्ता नियमित सेवन करें। कड़ी पत्ता इन्हें बहुत से इन्फेक्शन से बचाता है और इनके काम करने की ताकत बनाये रखता है।
11. कड़ी पत्ता आँखों की रौशनी तेज करता है और मोतियाबिंद होने की सम्भावना कम करता है।
 कड़ी पत्ता प्रकृति का अनमोल उपहार है इसको गमले और घर के बाहर कहीं भी आसानी से लगाया जा सकता है, जो हमें कई बीमारियों से बचाता है और भोजन को स्वादिष्ट व खुशबूदार बनाता है।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पक्षी आपका भाग्य बदले

परिवर्तन योग से करें भविष्यवाणी

जेल जाने के योग