रामदाना शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कम करता है

अक्‍सर उपवास के दौरान लोग राजगिरा, चैलाई, रामदाने के आटे से तैयार पूड़ी-पराठा या अन्‍य चीजें बना कर सेवन करते हैं। राजगिरा अनाज नहीं है इसलिये लोग इसे उपवास के दिनों में खाते हैं। यह स्‍वास्‍थ्‍य वर्धक गुणों से भरा हुआ है और शरीर को ताकत देता है। इसमे गेंहू के मुकाबले 5 गुना आयरन और 3 गुना फाइवर होता है। यह भूख को मिटाता है। इसके बने लड्डू भी चाव से खाते हैं। सिर्फ स्वाद ही नहीं सेहत से जुड़े बेशकीमती फायदे भी देता है राजगिरा (रामदाना)। आप भी जानिए इसके मिलने वाले सेहत लाभ:-
1 राजगिरा प्रोटीन, आयरन, मैग्नीशियम, फास्फोरस, पोटेशियम, एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन ई और विटामिन सी से भरपूर है। इसमें गेहूं की अपेक्षा तीन गुना अधिक फाइबर और 5 गुना अधिक आयरन होता है। इतना ही नहीं, इसमें दूध या अन्य अनाज के मुकाबले दोगुना कैल्‍शियम होता है। 
2 राजगिरा हड्ड‍ियों को मजबूत करता है और ऑस्ट‍ियोपोरोसिस जैसी समस्याओं से आपको बचाता है। इसमें मौजूद भरपूर कैल्शियम हड्ड‍ियों के लिए बेहद फायदेमंद है।
3 राजगिरे को अनाज नहीं माना जाता, इसलिए इसका प्रयोग उपवास में करते हैं। यह शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कम करता है और शर्करा के स्तर को भी संतुलित करने में मदद करता है।
4 इसमें भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो तनाव को कम करते हैं और फ्री रेडिकल्स से बचाते हैं। इसमें मौजूद लाइसिन और सिस्टीन बालों को स्वस्थ, मजबूत बनाता है।
5 भरपूर प्रोटीन के कारण जब उपवास में आप इसके व्यंजनों का सेवन करते हैं तो पेट देर तक भरा रहता है और आपको भूख कर एहसास नहीं होता। यह अनाज की तरह ही कार्य करता है।



इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पक्षी आपका भाग्य बदले

परिवर्तन योग से करें भविष्यवाणी

जेल जाने के योग