उद्यमियों की समस्याओं को गम्भीरता से ले अधिकारी

जिला स्तरीय उद्योग बन्धु की बचत भवन के सभागार कक्ष में आयोजित बैठक जिलाधिकारी, रायबरेली शुभ्रा सक्सेना की अध्यक्षता में की गई। बैठक में जिलाधिकारी ने अधिकारियों से कहा कि उद्योग बन्धु उघमियों की समस्याओं का निराकरण का एक महत्वपूर्ण प्लेटफार्म है उद्यमियों की समस्याओं का निराकरण युद्धस्तर पर करें। उद्यमियों की समस्याओं को गम्भीरता से लिया जाये यदि समस्या का निराकरण जिलास्तर पर न हो उसे मण्डल स्तरीय उद्योग बन्धु की बैठक में नियामनुसार रखकर कर उसका निराकरण कराये। बैठक में एक जनपद एक उत्पाद, खादी ग्रामोद्योग/जिला उद्योग की प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना की चर्चा की गई जिसमें बताया गया कि लक्ष्य पूरा कर लिया गया है तथा निर्देश दिये गये कि उद्यमियों के लाभ परक योजनाओं को का लाभ बढ़चढ कर दिलाया जाये। बैठक में औद्योगिक क्षेत्र में साफ-सफाई विद्युत आदि पर भी चर्चा हुई तथा साफ-सफाई, विद्युत सम्बन्धित कार्यो को दुरूस्त रखने के निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिये गये। बैठक में उद्यमियों को मुद्रा योजना के लाभ, अमांवा रोड, सुल्त.ानपुर रोड से अतिक्रमण हटाने, कामन फैसिलिटी सेन्टर में दुकान आवंटन, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, एकलमेज व्यवस्था, विद्युत अबाध आपूर्ति, सड़क/नाली निर्माण आदि प्रमुख बिन्दुओं पर विस्तार से चर्चा हुई तथा सम्बन्धित आधिकारियों को उचित दिशा निर्देश दिये गये। समीक्षा बैठक में जिलाधिकारी ने नगर पंचात/नगर पालिका परिषद को साफ-सफाई व्यवस्था पर ध्यान देनें के निर्देश दिये। औद्योगिक क्षेत्र में साफ-सफाई की व्यवस्था को दुरूस्त करने के निर्देश अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका को दिये गये। जिलाधिकारी ने विद्युत से सम्बन्धित लालगंज में एक उद्यमियों की समस्या को गम्भीरता से लेते हुए विद्युत आधिशाषी अधिकारी को निर्देश दिये कि उद्यमियों की विद्युत से सम्बन्धित समस्याओं का निराकरण तत्काल किया जाये। इसके अलावा व्यापार बन्धुओं की समस्याओं को मुख्य विकास अधिकारी राकेश कुमार ने भी विचार व्यक्त किये। 
 बैठक में एडी सूचना प्रमोद कुमार, एएसपी नित्यानन्द, उपायुक्त नेहा सिंह, जिला उद्योग महेशचन्द्र सरोज, जिला अग्राणी बैंक प्रबन्धक, बड़ी संख्या में उघमी व व्यापारी बन्धु, आईआईए के सदस्य आदि सहित बड़ी संख्या में उद्यमी एवं अधिकारी भी उपस्थित थे।