तहसील समाधान दिवस

तहसील सलोन में जिला रायबरेली में स्तरीय तहसील समाधान दिवस जिलाधिकारी शुभ्रा सक्सेना के निर्देश पर मुख्य विकास अधिकारी अभिषेक गोयल व पुलिस अधीक्षक स्वप्निल ममगई की देखरेख में सम्पन्न हुआ। तहसील समाधान दिवस में तहसील के कार्यो की बेहतरी के लिए आईएसओ 9001 सर्टिफिकेट भी प्रदान किया गया। जिसे मुख्य विकास अधिकारी ने एसडीएम सलोन आशीष कुमार सिंह को दिया। मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि तहसील समाधान दिवस, थाना दिवस आदि कार्यक्रम प्रदेश सरकार की शीर्ष प्राथमिक कार्यक्रमों में है जिसमें किसी भी प्रकार की शिथिलता क्षम्य नहीं होगी। तहसील के संदर्भ शिकायत रजिस्टर लम्बित प्रकरण के निस्तारण की जानकारी भी सीडीओ द्वारा ली गयी तथा निर्देश दिये गये कि लम्बित प्रकरणो को तत्काल निराकरण करें तथा आमजन के समस्याओं अनदेखी न करें। सम्पूर्ण समाधान दिवस पर फरयादियों की समस्याओं को गम्भीर से सुने और आयी हुयी शिकायतो का निस्तारण संवेदनशीलता व गम्भीरता से करे। समस्याओं के निस्तारण में गुणवत्ता, मानक व समय बद्धता का ध्यान रखें। किसी भी प्रकरण में जांच आदि की जरूरत है तो उसे अवश्य करें। 
मुख्य विकास अधिकारी को पूरे नेम मजरे जमुनी बुजुर्ग की एक महिला ने फरियाद करते हुए कहा कि वह अपने सास ससुर के पास रहती है। उसके पति की विगत वर्ष एक दुर्घटना में मृत्यु हो गयी थी। परिवारिक हालत ठीक नहीं है अतः विधवा पेंशन दिलाने की कृपा करें। इस पर सीडीओ ने एसडीएम को कार्यवाही के निर्देश दिये। पूरे मंकदीपुर गाॅव की 12 महिलाओं ने नाली बंद करने की शिकायत की और कहा कि इसमें प्रधान सहयेाग नहीं करते है जिसके कारण समस्या बढ़ जाती है। जिला पुलिस अधीक्षक व एसडीएम ने तत्काल कार्यवाही के निर्देश दिये। नयी बाजार सलोन के एक व्यक्ति ने प्रार्थना पत्र देते हुए कहा कि उसका कौशल पैलेस सिनेमा जिसे दो लोगों पार्टनशिप पर लिया था जो कि आजकल झांसी में रह रहे है। सिनेमा हाल का 13 लाख 93 हजार के अन्दर का नुकसान कर गये है जिसे दिलाया जाये।
इस पर एसडीएम ने नियमानुसार कार्यवाही के निर्देश दिये। इस मौके पर चार कुम्हारी कला के व्यक्तियों को प्रमाण पत्र भी मुख्य विकास अधिकारी द्वारा दिया गया। तहसील के बाहर जिला क्षेत्रीय आयुर्वेदिक एवं यूनानी अधिकारी डा0 अरूण कुमार के निर्देशन में डा0 सुबोध, राजेन्द्र प्रसाद, वीरेन्द्र कुमार आदि द्वारा निःशुल्क चिकित्सा कैम्प का आयेाजन भी किया गया। जिसमें 100 से अधिक मरीजों ने अपना निःशुल्क इलाज कराने के साथ ही आयुर्वेदिक दवाये भी मुफ्त प्राप्त की। 
इस मौके पर राजस्व, कानून, बिजली, सड़क, जिला पूर्ति अधिकारी सहित कई विभागों की समस्याओं को तत्काल नियमानुसार निराकरण करने के निर्देश दिये गये। अपर मुख्य चिकित्साधिकारी, एसडीएम आशीष सिंह, तहसीलदार रामकुमार शुक्ला, एसओसी एसके त्रिपाठी, सहायक सूचना निदेशक प्रमोद कुमार, परियोजना निदेशक प्रेमचन्द पटेल आदि अधिकारीगण भी उपस्थित रहे। सीडीओ ने इस मौके पर तहसील सलोन का भी निरीक्षण किया तथा उचित दिशा निर्देश दिये।