जरूरतमंदो को भोजन के पैकट वितरित

जिलाधिकारी, रायबरेली शुभ्रा सक्सेना व पुलिस अधीक्षक स्वप्निल ममगाई ने कोरोना वायरस कोविड 19 के संक्रमण के दृष्टिगत चल रहे तृतीय जनपद में सम्पूर्ण लाॅकडाउन का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान घण्टाघर चैराहा, अलीमियां चैक, सब्जी मण्डी चैराहा, रतापुर, सिविल लाईन, मुंशीगंज आदि दूर दराज क्षेत्रों में लाकॅडाउन की स्थिति का जायजा लिया। लोगो के आवागमन में नियंत्रित रहने पर संतोष व्यक्त करते हुए निर्देश दिये कि आमजनमानस अपने-अपने घरों में रहकर कोराना वारसय कोविड 19 के संक्रमण की चैन को रोक। जनपद में अपातकालीन सेवाए को पूरी तरह से एक्टिव रखने के निर्देश दिये है। शहर में डीएम-एसपी ने घूम-घूम कर जरूरतमंदों को 100 से अधिक भोजन के पैकट बाटे। उन्होंने स्वयं सेवी संस्थाओं से कहा है कि अपने स्तर से भी जरूरतमंदों को भोजन समाजिक दूरी बनाते हुए वितरित करें। उन्होंने कहा कि लाॅकडाउन का कोई भी उल्लघंन न करें अन्यथा की दशा में जेल की हवा भी खानी पड़ सकती है। डीएम-एसपी घंटाघर स्थित एक मेडिकल स्टोर पर जाकर दवाओं के वितरण जानकारी ली और निर्देश दिये कि सामाजिक दूरी बनाते हुए दवा वितरित करें। मूलभूत आवश्यकताएं जैसे गेहूँ, चावल, आटा, बेसन, मैदा, दाल, तेल, घी, डालडा, रिफाइन्ड, साबुन, टूथपेस्ट एवं समस्त प्रकार के मेवा, आलू, सब्जियां, फल, दूध, पेट्रोलियम पदार्थ एल0पी0जी0, पशुओं के चारा से सम्बन्धित पशु आहार, भूसा, चिकित्सीय उपकरणों (सामाग्रियों), दवाओं, सोडियम हाइपोक्लोराइड, क्लोरीन, ब्लीचिंग पाउडर तथा अन्य प्रकार के केमिकल्स जो फर्श क्लीनर/सेनेटाइजर में प्रयोग किये जाने वाले है, इनकी गाड़ियों को जनपद के बार्डर या जनपद के अन्दर लाने/ले जाने हेतु प्रतिबन्ध/निषेधाज्ञा से पूर्णतया मुक्त किया गया है। आवश्यक सामग्री राशन आदि को घर-घर भी पहुचाया जा रहा है। 
 जिलाधिकारी कलेक्ट्रेट परिसर से 15 से अधिक आवश्यक खाद्य सामग्री, सब्जी, फल आदि वाहनों को हरी झंण्डी दिखाकर रवाना किया और निर्देश दिये कि घर-घर जाकर निर्धारित दरों के अनुरूप सामग्री को वितरित करें। काला बाजारी, जमाखोरी मूल्य से अधिक बेचने व उपभोक्ताओं के घरों पर सामग्री न पहुचाने पर कड़ी कार्यवाही की जायेगी। इस मौके पर अतुल गुप्ता सहित व्यापारी सामाजिक दूरी बनाते हुए उपस्थित थे।