मुख्यमंत्री ने ट्रू नेट मशीन का उद्घाटन और अस्पताल का निरीक्षण किया


करोना वायरस के संक्रमण का ग्राफ लगातार बढ़ता जा रहा है, प्रदेश के मुखिया जहां जनपदों का दौरा कर रहे हैं वही जनपद आजमगढ़ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दोपहर पुलिस लाइन परिसर में बने हेलीपैड पर पहुंचे। सीएम पुलिस लाइन के सभागार में पार्टी के पदाधिकारियों के साथ 45 मिनट बैठक किया। इसके बाद जिला अस्पताल में ट्रू नेट मशीन का उद्घाटन और अस्पताल का निरीक्षण कर स्वास्थ्य अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। जिला अस्पताल से पुलिस लाइन पहुंचकर सभागार में अधिकारियों के साथ जिले के विकास के कार्यों पर मुख्यमंत्री ने समीक्षा बैठक की। आजमगढ़ जिले में सवा 2 घंटे के बाद बनारस के लिए रवाना हुवे।


संक्रामक महामारी को लेकर जहां सूबे के मुख्यमंत्री प्रदेश के विभिन्न जिलों में दौरा कर समीक्षा कर रहे हैं, वही जनपद आजमगढ़ पहुंचे। मुख्यमंत्री ने बताया कि कोविड-19 के महामारी को लेकर प्रदेश के 75 जिलों के जिला अस्पताल में टू-नेट मशीनों को उपलब्ध कराया गया है। जिससे आपरेशन को लेकर एक से डेढ़ घंटे में 2 मरीजों की इस मशीन से कोरोना पॉजिटिव की जांच हो सकेगी, इससे इमरजेंसी सेवा बहाल होगी। उन्होंने कहा कि आजमगढ़ में 1 लाख 57 हजार प्रवासी कामगार व श्रमिक आये हैं, अब तक 54 हजार प्रवासी श्रमिकों को भरण-पोषण और भत्ता दिया जा रहा है। इस तरह प्रदेश में 34 लाख से अधिक लोगों को सुविधा उपलब्ध कराया जा चुका है। बताया कि प्रदेश में 86 लाख 71 हजार वृद्धावस्था पेंशन, दिव्यांग पेंशन, विधवा पेंशन, पुष्टवस्था पेंशन धारकों को समय से देने के साथ-साथ इस कोरोना संक्रमण में एक हजार रुपए भी उपलब्ध कराया गया। उन्होंने कहा कि प्रदेश के अंदर छठी बार राशन 18 करोड़ लोगों को प्रतीत हो रहे हैं। कोविड-19 महामारी को लेकर अब तक प्रदेश में चार लाख टेस्ट कर चुके हैं, चार करोड़ अधिक लोगों का मेडिकल स्कैनिंग किया जा चुका है।