जिलाधिकारी झांसी ने घर से बाहर निकलने का कारण पूछा

जिलाधिकारी झांसी ने स्वयं लोगों से घर से बाहर निकलने का कारण पूछा और बेवजह घूमने वाले लोगों की गाड़ियों को रोककर गाड़ियों को सीज करते हुए उनका चालान काटे जाने की कार्यवाही करने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी आन्द्रा वामसी शहर के सबसे व्यस्ततम इलाइट चैराहे पर पहुंचे और उन्होंने वहां 2 दिन के लॉकडाउन का सख्ती से लोगों को पालन कराया। चारों ओर से आ रहे वाहनों व दो पहिया वाहनों को रोक बेमतलब घूमने पर नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने बताया कि यह अभियान पूरे नगर के साथ ही कंटेंनमेंट जोन में विशेष रुप से यह अभियान चलाया जा रहा है। शहर के अन्य क्षेत्रों में अधिकारियों व पुलिस अधिकारी संयुक्त रूप से यह कार्यवाही कर रहे हैं।
जिलाधिकारी ने शहर के कंटेनमेंट जोन के लोगों से अपील करते हुए कहा कि डोर टू डोर सर्विलांस टीम पहुंच रही है उनका सहयोग करें। कोरोना वायरस से यदि बचना है तो स्वयं ऐसे लोग आगे आए। जिन्हें कोई पुरानी बीमारी और सर्दी, बुखार व खांसी की शिकायत है ताकि जांच करते हुए आपको व आपके परिवार को सुरक्षित किया जा सके। जिलाधिकारी ने शहरवासियों से कहा कि लॉकडाउन के नियमों की अनदेखी न करें। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से बचने के लिए चेन तोड़ना जरूरी है। अतः अनावश्यक रूप से घर से ना निकले मास्क का प्रयोग करें और घर पर रहें सुरक्षित रहें।