कोरोना वायरस संक्रमण की प्रभावी रोकथाम एवं उपचार हेतु आवश्यक बैठक

जिलाधिकारी, रायबरेली शुभ्रा सक्सेना ने कोविड-19 कोरोना वायरस संक्रमण की प्रभावी रोकथाम एवं उपचार हेतु आवश्यक बैठक में सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये कि जिन क्षेत्रों में संक्रमण के प्रकरण सामने आ रहे हैं वहां डोर-टू-डोर सर्वे कराकर जिन व्यक्तियों में पाजिटिव सिम्टम्स आ रहे हैं उन्हें एल-1 एवं एल-2 टाइप के अस्पताल में भर्ती कराना सुनिश्चित किया जाए। टेस्टिंग के कार्यो को निरन्तर युद्ध स्तर पर किया जाये। सर्विलास टीम, टेस्टिंग कोविड एवं नन कोविड अस्पतालों का प्रबन्धन, एम्बुलेस सेवा का प्रबन्धन मरीजो को भर्ती कराने एवं डिस्चार्ज करने का प्रबंधन अस्पतालों के लिए लाजिस्टिक का प्रबंधन इत्यादि कराना अत्यंत आवश्यक है। एल-1 एल-2 अस्पताल में खाली पड़े बेड की सीमक्षा करते हुए तत्काल कार्य योजना तैयार करें। डोर-टू-डोर सर्वे के कार्य हेतु प्रत्येक वार्ड में नगर निकायो माध्यम से पल्स आक्स्ीमीटर, इंफ्रारेड थर्मा.मीटर एवं सैनिटाइजर की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि नर्सिग होम एसोसिएशन की शाखा में वार्ता कर यह सुनिश्चित किया जाये कि मरीज के कोविड के लक्षण आते ही वे तत्काल इंटीग्रेटेड कमांड एवं कंट्रोल रूम 0535-2203320, 2203214 व स्वास्थ्य विभाग के नम्बर 0535-2208145, 2701701, 2701702, 2701703 पर सम्पर्क कर सूचना दें जनपद में यदि कोई व्यक्ति बिना मास्क का दिखाई दे तो तत्काल कड़ाई कार्यवाही की जाये। सभी तिराहा, चैराहों एवं बाजारों में पब्लिक ऐड्रेस सिस्टम के माध्यम से बचाव के तरीकों का व्यापक प्रचार-प्रसार कराकर लोगों को जागरूक करा जाये। शासन की मंशा के अनुरूप संचारी रोग नियंत्रण अभियान के अन्तर्गत समस्त शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में फाॅगिंग मशीन से साफ-सफाई, एण्टीलार्वा का छिड़काव सुनिश्चित करते हुए प्रचार-प्रसार के माध्यम से लोगों को इससे बचाव हेतु सभी जानकारी दी जाये। उन्होंने कहा कि लोगों को इन भयानक महामारी से बचाव हेतु निरंतर जागरूक किया जाए। जनपद में इस व्यापक महामारी के दृष्टिगत सभी इमरजेंसी सुविधाए सुचारू रूप से संचालित होना चाहिए। 
 सोशल डिस्टेसिंग के माध्यम से कार्य करे तथा मास्क का प्रयोग अवश्य करे एवं अनावश्यक रूप से कही पर भीड़-भाड़ का जमावड़ा न होने दें। शनिवार एवं रविवार को पूर्व की भांति स्वच्छता, संचारी रोग नियंत्रण अभियान के रूप में रहेगा। जिन क्षेत्रो में कंटेनमेट जोन में विभिन्न गतिविधियों को प्रतिबन्धित रखे जाने के प्रावधानों का सख्ती से पालन कराया जाए। इसके साथ ही कंटेमेट जाने में लोगों को आवश्यक सामग्री की उपलब्धता में कोई असुविधान न हो। विभिन्न कार्यालयांे, संस्थाओं आदि में स्थापित कोविड हेल्प डेस्क के सुचारू संचालन किया जाना सुनिश्चित किया जाये।  
 इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी अभिषेक गोयल, अपर पुलिस अधीक्षक नित्यानन्द राय, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 संजय कुमार शर्मा, एडी सूचना प्रमोद कुमार सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।