महराजगंज में तेजी से बढ़ रहा है कोरोना

महराजगंज के फरेंदा क्षेत्र में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमितों को देखते हुए प्रशासन ने बड़ा निर्णय लिया। डीएम के निर्देश पर आनंदनगर कस्बे में गुरुवार की ही शाम सात बजे से 28 जुलाई तक लॉकडाउन कर दिया गया है। दवा की दुकानों को छोड़कर सभी दुकानें बंद रहेंगी। केवल इमरजेंसी सेवाएं बहाल रहेंगी। 
प्रशासन सब्जी और राशन की होम डिलिवरी कराएगा। पांच दिनों तक बंदी को लेकर प्रशासन व पुलिस ने आनंदनगर कस्बे को चारो ओर से सील करा दिया। 25 मार्च को पहली बार पूरे जिले में लाकडाउन हुआ था। लेकिन अनलाक 2 के बाद से जिले भर में कोरोना संक्रमित बेतहासा बढ़ने लगे। फरेंदा क्षेत्र में अकेले 45 गांव कोरोना की चपेट में आए हैं। जांच के बाद 70 लोग संक्रमित मिले हैं। बुधवार को भी फरेंदा कस्बा में थाना में एक, बैंक में एक व कस्बा में तीन लोग संक्रमित मिल गए। फरेंदा क्षेत्र में संक्रमितों की संख्या काबू में नहीं आने पर प्रशासन ने 23 जुलाई की शाम सात बजे से 28 जुलाई तक पांच दिनों के लिए आनंदनगर कस्बा में लाकडाउन कर दिया है।


लाकडाउन घोषित होते ही फोर्स मुस्तैद बंदी को लेकर गुरुवार को पुलिस व तहसील अधिकारी कर्मचारी अलर्ट हो गए। आनंदनगर सीमा को सील करने की तैयारी शुरू कर दी। आनंदनगर- गोरखपुर मार्ग, आनंदनगर-बृजमनगंज, आनंदनगर-महराजगंज मार्ग की सीमा को सील कर दिया गया है। लाकडाउन के दौरान कोई भी व्यक्ति घर से बाहर नहीं निकल सकेगा। केवल स्वास्थ्य संबंधी इमरजेंसी सेवाएं चालू रहेंगी। दवा कराने वाले पर्ची दिखाकर आ-जा सकेंगे। 
सामानों की होम डिलिवरी होगी, एसडीएम फरेंदा राजेश कुमार ने बताया कि लाकडाउन में दवा की दुकानों को छोड़कर सभी दुकानें बंद रहेंगी। आवश्यक वस्तुओं, किराना, सब्जी, फल की होम डिलिवरी कराई जाएगी। इसके लिए अधिकारियों को जिम्मेदारी दी गई है। 


बंदी की सूचना से अफरा-तफरी  आनंदनगर कस्बा में लाकडाउन की सूचना से दोपहर बाद अफरा-तफरी सा माहौल रहा। दुकानदारों ने सामानों की स्टोर कर बेचना शुरू कर दिया। वहीं आम लोगों ने भी किराना, सब्जी व अन्य जरूरी सामानों को खरीददारी कर सामानों को घर में स्टोर किया। 
बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को देखते हुए सभी की सहमति से आनंदनगर कस्बे में पांच दिनों के लिए लाकडाउन घोषित कर दिया गया है। इसमें स्वास्थ्य संबंधी इमरजेंसी सेवाएं बहाल रहेंगी। चप्पे चप्पे पर पुलिस तैनात कर दी गई है। उल्लघंन करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। राजेश कुमार जायसवाल, एसडीएम, फरेंदा