जीवन-यापन के लिए संघर्ष

भारत के पूर्वोत्तर के राज्यों में कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। अरूणाचल के नाहरलगुन में फिलहाल 3 अगस्त से लाॅकडाउन हट गया है। लेकिन सख्ती अभी भी जारी है, बिना मास्क निकलने पर 200 रूपये का जुर्मना, आटो पर सीमित सवारी के नियम को भी कठोरता से पालन कराया जा रहा है। वहां कोरोना महामारी के कारण बेरोजगारी बढ़ती जा रही है, दूसरी तरफ बारिस और भूस्खलन से भी वहा के लोगों को निरन्तर परेशानी हो रही है। हालात बिगड़ते जा रहे है, वहां के लोगों के सामने रोजगार के अलावा जीवनयापन के लिए भी कड़ा संघर्ष करना पड़ रहा है।