जो पानी बहता रहता है वह खराब नही होता: शुभ्रा सक्सेना

कोविड-19 कोरोना वायरस संक्रमण के दृष्टिगत रखते हुए कलेक्टेªट स्थित बचत भवन में विशेष सचिव चिकित्सा शिक्षा उ0प्र0 शासन को स्थानान्तरित/निवर्तमान आईएएस टापर रही जिलाधिकारी, रायबरेली शुभ्रा सक्सेना को अधिकारियों कर्मचारियों, समाजसेवियों पत्रकारो ने जहां भावभीनी विदाई दी तथा उनके कार्यो की भूरि-भूरि प्रशंसा करते हुए उनके मंगलमय भविष्य की कामना की। निवर्तमान जिलाधिकारी शुभ्रा सक्सेना ने अधिकारियों/कर्मचारियों को आहवान किया कि वे कोविड-19 संक्रमण को देखते हुए स्वय व दुसरों को सुरक्षित रखे, सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए मिलजुल कर टीम भावना से अपने शासकीय कार्यो को ईमानदारी, लगन, मेहनत के साथ करें। किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत हो तो उसे वरिष्ठ अधिकारियों के संज्ञान में लायें। उन्होंने कहा कि यहां के अधिकारियों/कर्मचारियों स्वयं सेवी संस्थाओं ने अयोध्या फैसला, सीसीए, कोविड-19 कोरोना वायरस व अन्य कार्यो को सम्पन्न कराने में टीम भावना के भांति तनमन धन से सहयोग कर अहम भूमिका निभाई है। स्थानान्तरण एक सतत चलने वाली प्रक्रिया है। डीएम ने बताया कि पूर्वोजो द्वारा कहा गया है कि जो पानी बहता रहता है वह खराब नही होता हैं और जो रूक जाता है वह दूषित होने लगता है। इसलिए हमेशा पानी के भांति बहते रहना है। यही जीवन है यही जीवन की निरन्तरता है। 
 पुलिस अधीक्षक स्वप्निल ममगाई, मुख्य विकास अधिकारी अभिषेक गोयल, एडीएम वित्त एवं राजस्व प्रेम प्रकाश उपाध्याय, एडीएम ई राम अभिलाष, मुख्य कोषाधिकारी जितेन्द्र सिंह, एएसपी नित्यानन्द राय, समस्त एसडीएम व तहसीलदार, एडी सूचना प्रमोद कुमार सहित सभी जनपद स्तरीय अधिकारी, कर्मचारी संघ के नेता अनूप कुमार मिश्रा व पत्रकारगण ने निवर्तमान जिलाधिकारी शुभ्रा सक्सेना को पुष्पगुच्छ देकर भावभीनी विदाई दी और कहा कि जिलाधिकारी शुभ्रा सक्सेना के नेतृत्व में जनपद में लगभग एक साल में तमाम ऊचाईयों को छुआ तथा तमाम विकास कार्यो के साथ अनेक उपलब्धियाॅं हासिल की जो प्रशंसनीय है। मौके पर शुभ्रा सक्सेना के कुशल नेतृत्व की प्रशंसा की गई। अधिकारी और कर्मचारियो द्वारा जिलाधिकारी को प्रतीक चिन्ह भेट किया। कोरोना संक्रमण, बचाव व जागरूकता को देखते हुए स्थानीय दो समाचार पत्र के सम्पादकों/प्रभारी द्वारा निर्वतमान जिलाधिकारी शुभ्रा सक्सेना को कोरेाना योद्धा प्रशस्त्रि पत्र देकर सम्मानित किया गया। वरिष्ठपत्रकार राधेश्याम लाल कर्ण, विमलेश कुमार यादव, आनन्द कर्ण, चन्द्रसेन भारती, सुरेश कुमार, कपिल आदि भी उपस्थित थे। कार्यक्रम का सकुशल संचालन रविन्द्रनाथ श्रीवास्तव द्वारा किया गया।