टाटा इन्स्टीट्यूट आफ सोशल साइन्सेज के बैचलर प्रोग्राम हेतु छात्र चयनित

सिटी मोन्टेसरी स्कूल, गोमती नगर (प्रथम कैम्पस), लखनऊ के मेधावी छात्र तुषार यादव ने टाटा इन्स्टीट्यूट आॅफ सोशल साइन्सेज (टी.आई.एस.एस.) की अखिल भारतीय प्रवेश परीक्षा में बैचलर कोर्स हेतु चयनित होकर विद्यालय का नाम गौरवान्वित किया है। टी.आई.एस.एस. के स्नातक स्तर के उच्चशिक्षा प्रोग्राम हेतु कुल 30 सीटें निर्धारित हैं, जिसमे तुषार ने अपना चयन सुनिश्चित किया है। विदित हो कि टाटा इन्स्टीट्यूट आॅफ सोशल साइन्सेज के स्नातक प्रोग्राम हेतु देश भर से कुछ 25000 छात्रों ने आवेदन किया था। सी.एम.एस. प्रेसीडेन्ट प्रो. गीता गाँधी किंगडन ने सी.एम.एस. के मेधावी छात्र की उल्लेखनीय सफलता पर हार्दिक बधाई देते हुए उसके उज्जवल भविष्य की कामना की है।
 सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी श्री हरि ओम शर्मा ने बताया कि एक अनौपचारिक वार्ता में तुषार ने अपनी सफलता का सम्पूर्ण श्रेय अपने शिक्षकों व विद्यालय की प्रधानाचार्या श्रीमती आभा अनन्त को दिया है, जिन्होंने हर कदम पर उसका मार्गदर्शन व उत्साहवर्धन किया। सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी को प्रेरणास्रोत बताते हुए तुषार ने कहा कि डा. गाँधी के प्रेरणादायी संबोधन ने उसे लक्ष्य निर्धारित करनेे में मदद की। तुषार ने बताया कि इस प्रतिष्ठित प्रवेश परीक्षा हेतु उसने कोई कोचिंग आदि नहीं ली, सिर्फ अपने  विद्यालय के शिक्षकों के मार्गदर्शन के आधार पर कड़ी मेहनत कर सफलता अर्जित की है। श्री शर्मा ने बताया कि तुषार शुरूआत से ही विद्यालय का मेधावी छात्र रहा है। उसने कक्षा-2 से 12वीं तक की स्कूली शिक्षा सी.एम.एस. गोमती नगर (प्रथम कैम्पस) से प्राप्त की है तथापि इसी वर्ष आई.एस.सी. (कक्षा-12) की परीक्षा 97.50 प्रतिशत अंको से उत्तीर्ण की है।े
 श्री शर्मा ने बताया कि सी.एम.एस. अपने छात्रों को उनकी रूचि के अनुसार विभिन्न रचनात्मक एवं सृजनात्मक प्रतियोगिताओं में  प्रतिभाग हेतु प्रेरित करता है और यही कारण है कि सी.एम.एस. छात्र विभिन्न प्रतियोगिताओं में अपनी बहुमुखी प्रतिभा की छाप छोड़कर विद्यालय का गौरव बढ़ा रहे हैं। सी.एम.एस. का लक्ष्य बच्चों को वल्र्ड लीडर के रूप में तैयार करने वाली शिक्षा उपलब्ध कराना है, ताकि वे कल के विश्वव्यापी समाज का नेतृत्व अपने विकसित मानवीय दृष्टिकोण से कर सके।