डीएम ने धान क्रय केन्द्रों का निरीक्षण किया

जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव ने जनपद की गल्ला मण्डी रायबरेली के धान क्रय केन्द्रों का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान धान क्रय केन्द्रों पर व्यवस्थाओं को दुरूस्त न पाये जाने पर केन्द्रों प्रभारियों को कड़ी फटकार लगाते हुए चेताया कि क्रय केन्द्रों पर व्यवस्थाए शासन के निर्देशों के अनुरूप पूरी तरह से दुरूस्त रखे तथा त्वरित सुधार हेतु निर्देश दिये। दोषी कर्मचारी के दण्डात्मक कार्यवाही के लिए एफसीआई के वरिष्ठ अधिकारी को निर्देश दिये। डीएम ने खाद्य विपणन अधिकारी तथा उपस्थित अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि जनपद के सभी संचालित धान क्रय केन्द्रों का संचालन विधवत कराकर प्रत्येक दशा में धान की खरीद को बढ़ाये तथा सभी केन्द्रों पर सरकार द्वारा निर्देशित व्यवस्थाए जिसमें धान खरीद के दौरान धान क्रय केन्द्र प्रभारी से केन्द्रों में उपलब्ध बोरों, झन्ना, नमी मापक यंत्र, इलेक्ट्रानिक कांटा, भुगतान, धान खरीद के लक्ष्य एवं किसानों को दी जाने वाली सुविधाओं के बारे में जानकारी प्राप्त की। खाद्य विपणन अधिकारी ने डीएम को बताया कि निर्देशों के अनुपालन में मण्डी में पूर्ण में दो केन्द्र स्थापित थे अब तीन और बढ़ा दिये गये है। उन्होंने मण्डियों में ज्यादा धान क्रय केन्द्रों खोलें निर्देश दिये जिससे किसान से धान खरीद ज्याद से ज्यादा हो सके।


जिलाधिकारी ने केन्द्र प्रभारियों को निर्देश दिये कि किसान धान क्रय केन्द्रों पर अपना धान को देकर सरकार द्वारा निर्धारित समर्थन मूल्य नियमानुसार प्राप्त करें। क्रय केन्द्र प्रभारियों का किसी भी दशा में क्रय केन्द्र बन्द मिलने पर या किसानों को किसी भी प्रकार की दिक्कतों का सामना करना पड़ तो सख्त से सख्त कार्यवाही की जायेगी। केन्द्रों पर किसी भी प्रकार की कमी न होने पाये। धान खरीद में कोई लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी। अगर किसी भी प्रकार की धान क्रय केन्द्रों की शिकायत मिलती है तो उसके खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने कहा कि लक्ष्य को समय रहते पूरा करें और खरीदारी को किसी प्रकार की कमी व शिथिलता न बरती जाये। तथा किसानों को किसी भी बिचैलियों से दूर रहने के भी निर्देश देते कहा कि किसानों से सीधे सम्पर्क करके उनका धान अधिक से अधिक क्रय किया जाए।
इस मौके पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन राम अभिलाष व मण्डी सचिव आदि अधिकारी उपस्थित थे।