गायन ही मेरा जीवन है: चांदनी वेगड़

देश में विभिन्न तरह की युवा प्रतिभाएँ है, जिन्होंने पूरे भारत में अपनी अलग पहचान बनाई है, ऐसी ही एक है, गुजरात के जामनगर की रहने वाली मधुर आवाज की धनी चांदनी वेगड़ है। एक शो के दौरान उनकी आवाज सुनकर हाई-स्पीड सिने इंटरनेशनल बैनर तले एक हिंदी फीचर फिल्म लिविंग रिलेशन के लिए साइन किया गया है। जिसके निर्माता आाशीष गजेरा व सोनल गजेरा है और निर्देशक अरमान जाहिदी है। चांदनी जामनगर के रहने वाले के.पी. वेगड़ की बेटी है, जोकि गुजरात ज्यूडिशियरी में पूर्व सीनियर सिविल जज एंड चीफ जुडिसियल मजिस्ट्रेट रह चुके है। जामनगर के श्री सत्य साई विद्यालय में दसवीं कक्षा में पढ़ने वाली चांदनी पूरे गुजरात राज्य के राज्य कला महाकुम्भ- 2018, क्राइस्ट कॉलेज, राजकोट के स्पंदन 2019 जैसे कई प्रतियोगिताओं के लिए उनको चुना गया ज्यादातर में प्रथम और कुछ में तृतीय स्थान प्राप्त किया। इसके अलावा गुजरात राज्य में और मुंबई में कई शो में भी हिस्सा ले चुकी है। जब सात साल की थी तब से गायन ही उनके जीवन का सबसे बड़ा लक्ष्य रहा है। चांदनी वेगड़ कहती है के, उनके परिवाल वाले उनको बहुत सपोर्ट करते है। उनके परिवार में उनका बड़ा भाई राज वेगड़, पिता कांतिलाल वेगड़ और उनकी माता अस्मिता वेगड़ है।फिल्म में गाने का मौका मिलने के बारे में गायिका चांदनी वेगड़ कहती है, दिलीपभाई मेरे पिता के मित्र है और उन्होंने मुझे एक गायन प्रतियोगिता में सुना था, उन्ही की वजह से मुझे यह फिल्म मिली है, इसकी रेकार्डिंग जल्द ही मुंबई में होगी। और एक दो प्रोडक्शन हाउस से और बात चल रही है, जल्द ही उसके बारे में भी बताउंगी।
पढाई और गायन दोनों जारी रखेगी या गायन में ही कैरियर बनाएंगी इसके बारे में वे कहती है, मैं दोनों ही जारी रक्खूंगी। जीवन में दोनों ही जरुरी है। गायन ही मेरा जीवन है लेकिन पढाई भी उसके साथ बहुत जरुरी है।
अपने मन पसंद गायक और गायिका के बारे में चांदनी कहती है, लता मंगेशकर व आशा भोसले के गाने को बहुत पसंद करती हूँ। और गायक में अरमान मलिक और अरिजीत सिंह सबसे ज्यादा पसंद है। इन लोगो में जो बात है व बहुत अलग है। वैसे मैं लगभग हर गायक और गायिका के गाने सुनती हूँ।
अब देखना है कि चांदनी वेगड़ बॉलीवुड में कहाँ तक कामयाब होती है?