विधिक साक्षरता एवं जागरूकता शिविर का आयोजन सम्पन्न

राष्ट्रीय शिक्षा दिवस के अवसर पर उ0प्र0 राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देशानुसार व अब्दुल शाहिद जिला एवं सत्र न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के दिशा-निर्देशन में एस0जे0एस0 पब्लिक स्कूल की मुख्य शाखा रायबरेली में बच्चों के विधिक अधिकार एवं मिशन शक्ति विषय पर विधिक साक्षरता एवं जागरुकता शिविर का आयोजन किया गया।
कोरोना महामारी के समय सोशल डिस्टेंसिग का पालन करते हुए कार्यक्रम का शुभारम्भ किया गया। कोविड-19 से बचाव मास्क का प्रयोग दो गज की दूरी का अनुपालन करने हेतु जागरुक किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता मयंक जायसवाल सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, रायबरेली द्वारा की गयी। सचिव द्वारा शिविर में उपस्थित बच्चों को सम्बोधित करते हुए बताया कि बच्चों को अपने अधिकारों के प्रति जागरुक होना चाहिए जिसके लिए शिक्षा बहुत जरुरी है। सचिव द्वारा कहा गया बच्चे देश का भविष्य है। सफल होना और सफल बने रहना दोनों में बड़ा अन्तर है। शिक्षा ग्रहण करने का उद्देश्य नौकरी के साथ-साथ सामाजिक जीवन कर्तव्य का बोध भी होना अनिवार्य है। हमें पढ़ाई के साथ-साथ खेल-कूद पर भी ध्यान देना चाहिए जिससे हम मानसिक रुप से स्वस्थ्य रहे। क्षेत्राधिकारी सदर डा0 अंजनी कुमार चतुर्वेदी द्वारा इस अवसर पर बच्चों को मिशन शक्ति व साइबर क्राइम के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी गयी उससे बचाव हेतु सभी को सजग किया गया। संगोष्ठी में मिशन शक्ति विषय, नारी सुरक्षा, नारी सम्मान, नारी स्वावलंबन विषय पर चर्चा की गयी। महिला सुरक्षा सम्बन्धित महत्पूर्ण नम्बर 1090, 181, 1076, 112, 1098, 102, 108 को सभी बच्चों व शिक्षकों के साथ साझा किया गया। संरक्षण अधिकारी द्वारा बच्चों से सम्बन्धित विभिन्न सरकारी योजनाओं के बारे में विस्तार से बताया गया। इस अवसर पर स्कूल के प्रधानाचार्य डा0 बीना तिवारी, प्रबंधक एवं अधिवक्ता रमेश बहादुर सिंह, पी0एल0वी0 पवन कुमार श्रीवास्तव उपस्थित रहे।