रायबरेली के 48 नवनियुक्त सहायक अध्यापकों को नियुक्ति पत्र वितरित

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने लखनऊ से मिशन रोजगार के अंतर्गत निष्पक्ष एवं पारदर्शी भर्ती प्रक्रिया के माध्यम से बेसिक शिक्षा परिषद उत्तर प्रदेश द्वारा संचालित परिषदीय विद्यालयों में चयनित 6696 सहायक अध्यापकों की नियुक्ति वितरण नियुक्ति पत्र वितरण कार्यक्रम का वर्चुअल माध्यम से शुभारंभ करते हुए अपने कर कमलों से दस नवनियुक्त सहायक अध्यापकों को नियुक्ति पत्र वितरित किया। जिसमें जनपद रायबरेली की सुमन देवी को भी मा0 मुख्यमंत्री के करकमलों के माध्यम से नियुक्ति पत्र प्राप्त हुआ। इसी क्रम में जनपद रायबरेली में एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह व बछरावां विधायक राम नरेश रावत जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव, मुख्य विकास अधिकारी अभिषेक गोयल ने मुख्यमंत्री जी के नियुक्ति पत्र वितरण महोत्सव कार्यक्रम का लाइव प्रसारण देखा तथा जनपद रायबरेली के 48 नवनियुक्त सहायक अध्यापकों को नियुक्ति पत्र वितरित किया।
मुख्यमंत्री जी ने अपने संबोधन के दौरान कहा कि प्रदेश सरकार के 19 मार्च को चार वर्ष पूर्ण होने पर लगभग 4 लाख से अधिक लोगों को नौकरी मुहैया करवाने के साथ वर्तमान में 4.5 लाख से अधिक लोगों को नौकरियां निष्पक्ष एवं पारदर्शी भर्ती प्रक्रिया के दौरान उपलब्ध कराई जा चुकी है। कार्यो व नियुक्ति के सम्बन्ध में पारदर्शी भर्ती प्रक्रिया के सम्बन्ध में अवगत कराया और कहा कि समस्त जनपदों में वितरित किये गये मेहनत करने वालों ने भर्ती प्रक्रिया में हिस्सा लेकर कामयाबी हासिल की है। जो कि अपने में एक उपलब्धी है उत्तर प्रदेश सरकार ने परीक्षा/नियुक्ति प्रक्रियाओं को समय से त्वरित गति से पूर्ण कराकर और समय से उसका रिजल्ट भी जारी कराया गया जो भी एक उपलब्धी है। सरकारी की प्राथमिकता है जो भी भर्ती प्रक्रिया हो पूरी ईमानदारी व निष्पक्ष एवं पारदर्शिता के साथ सम्पन्न की जाए। उन्होने कहा कि सीखने की कोई सीमा नही होती है कोई भी व्यक्ति हरचीजों में पारंगत रही होता है व पाठ्न पाठन के साथ ही सरकार की नितियां उपलब्धियां लाभ-परक कल्याणकारी योजनाओं को जाने और विद्यार्थियों के साथ-साथ आमजनमानस को भी लाभ परक योजनाओ का लाभ दिलवाये। जो भी नियुक्ति पत्र प्राप्त कर रहे है उनमें आत्मबल व आत्मविश्वास दिखाई पड़ रहा है। जो कि प्रदेश के विकास के लिए एक ताकत है। उन्होंने कहा कि नियुक्ति प्रक्रिया में आरक्षण प्रक्रिया को शत-प्रतिशत पालन किया गया है। आज के अवशेष नियुक्ति पत्रों के साथ ही सरकार द्वारा 69000 शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया पूर्ण कर दिया गया है। नियुक्ति प्रक्रिया में आरक्षण के नियमों का पालन किया गया है सरकार समाज के वचित लोगों को आगे बढ़ाने का कार्य करती रहेगी। आयोजित कार्यक्रम को प्रदेश के उपमुख्यमंत्री डाॅ0 दिनेश शर्मा ने भी सम्बोधित करते हुए अपने विचार व्यक्त किये।
मुख्यमंत्री ने कहा कि अध्यापक कोरोना संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए पूरी तरह से सर्तक रहकर बच्चों को शिक्षा का कार्य बढ़-चढ़ कर कराए तथा राष्ट्र को सशक्त समृद्धशाली बनाने की जिम्मेदारी शिक्षकों को निभानी है। इसके अलावा प्रत्येक नागरिक के जीवन में खुशवाही लाने का भरपूर प्रयास करें। उन्होंने कहा कि पारदर्शी व्यवस्था दे रही है। समाज को भी अपनी जिम्मेदारी निभानी है। क्योकि समाज का ऋण सरकार के साथ सब पर है।
इसी प्रकार नियुक्ति पत्र वितरण के दौरान जिलाधिकारी ने दो दिव्यांगजन सहायक अध्यापकों को अपने साथ कुर्सी पर बैठा के नियुक्ति पत्र दिया तथा उसके साथ में फोटोग्राफी भी करवाई। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए विधायक राम नरेश रावत ने कहा कि प्रदेश सरकार बेरोजगार युवाओं को लगातार रोजगार देने का कार्य कर रही है प्रदेश में पूरी निष्पक्षता एवं पारदर्शिता के साथ भर्ती प्रक्रिया आयोजित कर अधिक से अधिक युवाओं को रोजगार दिया जा रहा है। नवनियुक्ति अध्यापकगण पूरी लगन व ईमानदारी के साथ बच्चों को पढ़ाएं, उनको अच्छी शिक्षा प्रदान करें, उनका सर्वांगीण विकास कर जनपद, प्रदेश व देश का नाम रोशन कराने में आगे आये। जिलाधिकारी, एमएलसी, विधायक ने नवनियुक्त सहायक अध्यापकों को उनके उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी। इस मौके पर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी शिवेन्द्र प्रताप सिंह, उपनिदेशक सूचना प्रमोद कुमार व सूचना के मो0 राशिद रियाज, नवचयनित सहायक अध्यापक एवं बेसिक शिक्षा विभाग के कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पक्षी आपका भाग्य बदले

जेल जाने के योग

परिवर्तन योग से करें भविष्यवाणी