विशेष संचारी रोग नियंत्रण पखवाड़ा एवं दस्तक अभियान का किया शुभारंभ

विशेष संचारी रोग नियंत्रण पखवाड़ा एवं दस्तक अभियान का शुभारंभ पूर्व माध्यमिक विद्यालय अहमदपुर से नगर पालिका अध्यक्ष पूर्णिमा श्रीवास्तव व मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ वीरेंद्र सिंह द्वारा फागिंग कर संयुक्त रूप से किया गया तथा संचारी रोग नियंत्रण एवं दस्तक अभियान की रैली व फागिंग मशीन गाड़ी को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया। संचारी रोग नियंत्रण पर पोस्टर प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया जिसमें प्रथम द्वितीय तृतीय स्थान प्राप्त करने वाली छात्राओं को पुरस्कृत भी किया  गया।

नगर पालिका अध्यक्ष पूर्णिमा श्रीवास्तव ने बताया कि यदि हम सभी लोग मिलकर साफ सफाई करें तो हमारा जिला संचारी रोग से मुक्त हो सकता है। सरकारी प्रयासों के साथ ही हमारी व्यक्तिगत प्रयास से रोगों से मुक्त रह सकते हैं। सीएमओ डॉ वीरेंद्र सिंह ने बताया कि दिमागी बुखार की रोकथाम के लिए  पूरी बॉह वाले कपड़े पहने,  घरों के आसपास सफाई रखें, स्वच्छ पेयजल ही पिए, घरों के आसपास जलभराव ना होने दें, कुपोषित बच्चों पर विशेष ध्यान रखें, खुले में शौच ना करें, रोजाना स्नान करें, मच्छरदानी लगाकर सोए, कूलर का पानी हर हफ्ते बदले आदि कार्यों से दिमागी बुखार व संचारी रोग को नियंत्रण किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि 19 अक्टूबर से 1 नवंबर तक आशा बहू घर-घर जाकर दस्तक देते हुए मच्छर जनित बीमारियों से बचाव के तरीके बताएंगे तथा 17 नवंबर तक सहयोगी विभाग के बड़े सहयोग से संचारी रोग की रोकथाम के उपाय बताएंगे। उन्होंने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री जी के नेतृत्व में प्रदेश में दिमागी बुखार के मरीजों की संख्या कम हो गई है।  जिला मलेरिया अधिकारी रितु श्रीवास्तव ने बताया कि जल जनित बीमारियों से बचाव हेतु शिक्षा विभाग, बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग, कृषि विभाग, पशुपालन विभाग, उद्यान विभाग, विकास विभाग, पंचायती राज विभाग आदि विभाग सरकार द्वारा बताए गए निर्देशों के अनुरूप कार्यों को करते हुए संचारी रोग के संचरण पर रोक लगाएंगे। आयोजित कार्यक्रम का संचालन स्काउट गाइड के लक्ष्मी कांत शुक्ला द्वारा किया गया।

इस अवसर पर मुकेश श्रीवास्तव, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ वीरेंद्र सिंह, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका आशीष कुमार सिंह, पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ गजेंद्र सिंह, वंदना त्रिपाठी,  अनिल पांडे, गौरव वर्मा, नीलम मौर्य, अखिलेश बहादुर आदि सहित बड़ी संख्या में छात्राएं उपस्थित रहे।



 

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पक्षी आपका भाग्य बदले

जन्म कुंडली में वेश्यावृति के योग

भृगु संहिता के उपचार