जिसकी जितनी संख्या भारी उसको उतनी हिस्सेदारी: डाः राजपाल कश्यप

- राजीव प्रताप सिंह, सहायक संपादक

समाजवादी पार्टी द्वारा प्रदेशव्यापी ब्लाक स्तरीय जातीय जनगणना के दूसरे दिन हरहुआ, पिण्डरा, चोलापुर व चिरईगांव ब्लाक की जातीय जनगणना संगोष्ठी बैठक व्यास बाग, हनुमान मंदिर, भेलखा, तरना वाराणसी में संपन्न हुई। संगोष्ठी बैठक में भारी संख्या में भी महिलाएं उपस्थित थीं।

संगोष्ठी बैठक को संबोधित करते हुए जातीय जनगणना संगोष्ठी के प्रभारी डा. राजपाल कश्यप ने कहा, हमारी मांग है जब केंद्र सरकार द्वारा 31 बिंदुओं पर जनगणना का कार्य किया जा रहा है जिसमें मकान, गाड़ी, हैंडपंप, बिजली, पशु, पेड़, सहित 31 बिंदुओं पर जानकारी मांगी जा रही है तो उसी में एक बिंदु और जोड़कर जाति भी पूछ ली जाए। जिससे जनगणना के साथ-साथ जातीय जनगणना भी हो जाय, भाजपा सरकार जातीय जनगणना कराने से इसलिए भाग रही है क्योंकि जाति को जाति से लड़ा कर, धर्म को धर्म से लड़ाकर राजनीति करना और वोट लेना इनका पेशा है। जब सपा की सरकार थी तो यह झूठ खूब प्रचारित किया गया कि सभी पिछड़ी जातियों का हक एक जाति के लोग खा जा रहे हैं। इसलिए जातीय जनगणना और भी आवश्यक हो जाता है जिससे यह पता लग सके कि किस जाति की जनसंख्या कितनी है उसी अनुपात में उसको आरक्षण दिया जा सके। भाजपा का नारा है सबका साथ, सबका विकास इनको सबका साथ तो मिला और जब विकास करने की बात आई तो विकास सिर्फ अपने कुछ खास दोस्त पूजीपतियों का कर रहे हैं। रेलवे, एयरपोर्ट, बीएसएनएल, एल.आई.सी. सहित तमाम सरकारी संस्थाओं को अपने खास मित्र उधोगपतियों को बेच दिया गया। आम आदमी को सिर्फ महंगाई और बेरोजगारी मिली सत्ता में आने के पहले भाजपा कहा करती थी कि प्रतिवर्ष हम युवाओँ दो करोड़ नौकरियां देंगे साथ ही साथ किसानों की आय दोगुनी कर देंगे। लेकिन सत्ता में आने के बाद ठीक इसका उल्टा हुआ नौकरी देने की तो बात छोड़िए करोड़ों-करोड़ों युवाओं से नौकरियां छीन ली गई। किसानों की आय दोगुनी तो नहीं हुई लेकिन आधी जरूर हो गई। छुट्टा और आवारा पशुओं द्वारा किसानों के फसलों को नष्ट किया जा रहा है किसान को अपनी लागत मूल्य भी निकाल पाना मुश्किल है। भाजपा जो कहती है ठीक उसका उल्टा करती है। प्रदेश के सभी जिलों में ब्लाक स्तर पर जातीय जनगणना के समर्थन में संगोष्ठी बैठक चलती रहेगी यदि सरकार जातीय जनगणना नहीं कराती है तो समाजवादी पार्टी इसके लिए बड़ा जनसमर्थन जुटाकर कर आंदोलन करेगी।

कार्यक्रम की अध्यक्षता वंशराज पटेल प्रधान व संचालन नि. जिला उपाध्यक्ष विवेक यादव ने किया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से जिलाध्यक्ष सुजीत यादव लक्कड़, पूर्व मंत्री मनोज राय धूपचंडी, पूर्व प्रत्याशी शिवपुर विधानसभा आनंद मोहन गुड्डू यादव, जिला महासचिव आनंद मौर्य,  निवर्तमान जिलाध्यक्ष पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ ओपी पटेल, लालमन यादव प्रधान, हीरालाल मौर्य, उमेश प्रधान, अखिलेश यादव जिलाध्यक्ष यूथ ब्रिगेड, हर्ष राजभर, जितेंद्र पटेल सुनील सोनकर, महेश यादव, बालकिशुन पटेल, बाबूलाल यादव, संजय यादव व हरिशंकर विश्वकर्मा आदि लोगों ने विचार व्यक्त किया।

समाजवादी पार्टी के संदीप उर्फ संजय यादव ने मुख्य अतिथि डा. राज्यपाल कश्यप को स्मृति चिन्ह व मोमेंटो देकर सम्मानित किया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से श्याम बली पटेल, जितेंद्र पटेल, भीष्म नारायण, धर्मेंद्र सिंटू, शुभम जिद्दी, संजय चाचू, शंभू यादव, मनीष सिंह, मोतीलाल यादव, कल्याण यादव, प्रदीप पटेल दरोगा, रतन यादव, कमलाकांत प्रजापति, विजय कन्नौजिया, विश्वनाथ पटेल, गोविंद पटेल प्रधान, बरखू यादव, संतोष चमार, नंदकिशोर पटेल, संतोष भारती, जय प्रकाश पटेल, प्यारेलाल, ओंकार पटेल समेत सैकड़ों कार्यकर्ता, महिलाएं, बुजुर्ग उपस्थित रहे। कार्यक्रम का धन्यवाद ज्ञापन मोदी यादव प्रधान ने किया।



 

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पक्षी आपका भाग्य बदले

जन्म कुंडली में वेश्यावृति के योग

भृगु संहिता के उपचार