त्योहारों पर शांति एवं सौहार्द बनाए रखने की अपील

जिलाधिकारी श्रीमती माला श्रीवास्तव ने कहा कि विगत वर्षों में जनपद रायबरेली में सभी पर्व और त्योहार शांति और सौहार्द के माहौल के बीच सम्पन्न हुए हैं। जिलाधिकारी ने जनपद वासियों से अपील की है कि अमन व भाईचारे की परम्परा रखते हुए शांति एवं सौहार्द पूर्व की भांति बनाये रखे। उन्होंने कहा कि रमजान का महीना चल रहा है। आगामी 22 अप्रैल को ईद-उल-फितर, अक्षय तृतीया और परशुराम जयंती का पर्व एक ही दिन होना सम्भावित है। इसके दृष्टिगत उपजिलाधिकारी व क्षेत्राधिकारी पुलिस को अतिरिक्त संवेदनशीलता के साथ कार्य करना होगा।  उन्होंने निर्देश दिए कि सभी पर्व शांति और सौहार्द के बीच सम्पन्न हों, इसके लिए स्थानीय आवश्यकताओं के दृष्टिगत सभी जरूरी प्रबंध किए जाएं। शरारतपूर्ण बयान जारी करने वालों के साथ कड़ाई से पेश आएं।  माहौल खराब करने की कोशिश करने वाले अराजक तत्वों के साथ पूरी कठोरता की जाए।

जिलाधिकारी श्रीमती माला श्रीवास्तव ने कहा कि अलविदा जुमा व ईद उल फितर के अवसर पर पिछले वर्ष की भांति ही नमाज मस्जिदों एवं ईदगाह परिसर के अन्दर ही अदा की जाएं। उन्होंने कहा कि इस अवसर पर किसी भी प्रकार की कोई नई परम्परा की शुरुआत न की जाए। उन्होंने यह भी कहा कि अलविदा जुमा व ईद के अवसर पर सोशल मीडिया पर कोई आपत्तिजनक पोस्ट यदि पाई जाती है तो उसे तत्काल प्रशासन के संज्ञान में लाया जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि विशेष रूप से ध्यान रखा जाए कि इन पर्वों के अवसर का लाभ लेते हुए किसी भी व्यक्ति, समूह अथवा संस्था द्वारा राजनैतिक गतिविधि सोशल मीडिया आदि पर करने के प्रयास न किये जाएं। उन्होंने कहा कि नगरीय निकाय निर्वाचन की आदर्श आचार संहिता लागू है, इसका उल्लंघन नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि जनपद में धारा 144 भी लगी हुई है, इसका पालन किया जाना चाहिए।

जिलाधिकारी ने कहा कि पूर्व की भांति सभी अधिकारी यह सुनिश्चित कराएं कि धार्मिक कार्यक्रम, पूजा-पाठ आदि निर्धारित स्थान पर ही हों। किसी भी दशा में सड़क मार्ग तथा यातायात बाधित कर कोई धार्मिक आयोजन न हो। उन्होंने निर्देश दिए कि कोई शोभायात्रा/धार्मिक जुलूस बिना विधिवत अनुमति के न निकाले जाएं। उन्होंने कहा कि पर्व और त्योहार के बीच सामाजिक सौहार्द बना रहे, इसके लिए संवेदनशील क्षेत्रों में अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती की जाए। धार्मिक स्थलों की सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध हों। ड्रोन का उपयोग कर स्थिति पर नजर रखें। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि सामाजिक शांति और सौहार्द के लिए सभी पुलिसकर्मी सतर्क और सावधान रहे।


 

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पक्षी आपका भाग्य बदले

जन्म कुंडली में वेश्यावृति के योग

भृगु संहिता के उपचार