ग्रामीण कारीगरों को सशक्त बनाने की अनूठी पहल

- राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं द्वारा बनाये गये उत्पादों को फ्लिपकार्ट पर बेचने हेतु महराजगंज में विशेष कार्यशाला

- ग्रामीण विकास के प्रति एनआरएलएम की प्रतिबद्धता और फ्लिपकार्ट का ग्रामीण कारीगरों को समर्थ बनाने के प्रयासों पर जोर

- एनआरएलएम और फ्लिपकार्ट के स्वयं सहायता समूहों की महिला उद्यमियों को सशक्त बनाते हैं

राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन यएनआरएलएम और भारत के घरेलू ई.कामर्स प्लेटफार्म फ्लिपकार्ट ने मिलकर महराजगंज में स्वयं सहायता समूहों की महिला उद्यमियों के जीवन में बदलाव लाने का बीड़ा उठाया है। एक साझेदारी के माध्यम से ये प्रतिभाशाली महिलाओं द्वारा बनाए गए उत्पादों को फ्लिपकार्ट के आनलाइन मार्केटप्लेस पर प्रदर्शित करने और बेचने का कार्य करेंगे। दोनों मिलकर ग्रामीण महिलाओं के उत्पादों को देश भर में ग्राहकों तक पहुंचाने के लिए एक व्यापक मंच प्रदान करेंगे।

डिजिटल माध्यम को अपनाते हुए यह संयुक्त प्रयास ग्रामीण सशक्तीकरण और सदियों पुरानी परंपराओं को संरक्षित करने के प्रति एनआरएलएम की प्रतिबद्धता का एक प्रमाण है। यह पहल इन महिलाओं को अपना कौशल प्रदर्शित करने, बाजार तक पहुंच बढ़ाने और अपनी सामाजिक, आर्थिक स्थिति में सुधार करने के लिए एक मंच प्रदान करेगी। फ्लिपकार्ट के साथ इस साझेदारी से वित्तीय समावेशन और उद्यमिता को बढ़ावा मिलेगा। इससे एनआरएलएम के गरीबी उन्मूलन और ग्रामीण विकास के मिशन में मदद मिलेगी।

इस साझेदारी को गति देने के लिए एक विशेष कार्यशाला आयोजित की गई। जो इन महिलाओं को ई.कामर्स की दुनिया में आगे बढ़ने के लिए आवश्यक बुनियादी कौशल सिखाने पर आधारित थी। कार्यशाला ने इन छोटी महिला उद्यमियों को आनलाइन माध्यम से व्यवसाय में सफल होने के लिए समर्थ बनाने के लिए आवश्यक प्रशिक्षणए उपकरण और अंर्तदृष्टि प्रदान किया।

सांसद और केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री श्री पंकज चैधरी ने कहा, एनआरएलएम और फ्लिपकार्ट के बीच यह सहयोग ग्रामीण समुदायों के उत्थान की दिशा में एक शक्तिशाली कदम का प्रतिनिधित्व करता है। स्थानीय कारीगरों के लिए एक मंच प्रदान करकेए हम न केवल अपनी समृद्ध सांस्कृतिक विरासत को संरक्षित कर रहे हैं, बल्कि ग्रामीण भारत के आर्थिक विकास में योगदान भी दे रहे हैं। 

फ्लिपकार्ट समूह के मुख्य कार्पोरेट मामलों के अधिकारी, श्री रजनीश कुमार ने कहा, फ्लिपकार्ट में, हम देश भर में स्वयं सहायता समूहों, ग्रामीण कारीगरों और बुनकरों का तहे दिल से समर्थन करते हैं। आज की कार्यशाला से हमें उत्साहजनक प्रतिक्रिया मिली है। फ्लिपकार्ट के माध्यम से हमारा लक्ष्य है महिला उद्यमियों को विशेषज्ञताए संसाधनों और उनकी उद्यमशीलता की सफलता को बढ़ावा देने के माध्यम से राष्ट्रव्यापी बाजार तक उनकी पहुंच सुनिश्चित करना। हमारा दृढ़ विश्वास है कि इस तरह की कार्यशालाओं का आयोजन करके, हम उनकी पूरी क्षमता को साकार करने की दिशा में उनकी यात्रा को सुविधाजनक बना सकते हैं। इससे वे पूरे भारत में अपने विविध उत्पादों को ग्राहकों के सामने पेश कर सकेंगी।

महराजगंज के जिलाधिकारी श्री सतेंद्र कुमार ने कहा, इन महिला उद्यमियों का सशक्तिकरण हमारे ग्रामीण क्षेत्रों में मौजूद क्षमता का एक प्रमाण है। हमें विश्वास है कि इस साझेदारी से हमारे क्षेत्र में सतत विकास और समृद्धि आएगी। 

वास्तव में, एनआरएलएम और फ्लिपकार्ट के बीच यह साझेदारी सिर्फ एक सहयोग नहीं है। यह ग्रामीण समुदायों के जीवन में बदलाव लाने का एक मिशन है। इसका उद्देश्य ग्रामीण भारत में सकारात्मक बदलाव लाने के साथ ही परंपराओं को संरक्षित करना और महिलाओं को सशक्त बनाने में ई.कामर्स की भूमिका को मजबूती देना है।

ग्रामीणों को स्थायी आजीविका के जरिए गरीबी दूर करता है एनआरएलएमः- राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन यएनआरएलएम एक सरकारी पहल है जो ग्रामीण गरीबी को कम करने और भारत की ग्रामीण आबादी के लिए स्थायी आजीविका को बढ़ावा देने के लिए समर्पित है। एनआरएलएम का लक्ष्य कौशल विकास, वित्तीय सेवाओं तक पहुंच और उद्यमिता के लिए समर्थन के माध्यम से ग्रामीण समुदायों को सशक्त बनाना है।

अधिक जानकारी के लिए संपर्क करेंः- media@flipkart.com


 

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पक्षी आपका भाग्य बदले

जन्म कुंडली में वेश्यावृति के योग

भृगु संहिता के उपचार