विनय ने सामंती आतंक के सामने घुटने नहीं टेके: ओपी यादव

दिवंगत आत्मा की शांति हेतु श्रद्धाँजलि सभा का आयोजन

समाजवादी पार्टी रायबरेली के वरिष्ठ नेता सदर विधान सभा के अध्यक्ष सामाजिक परिवर्तन मिशन के वाहक विनय यादव के निधनोपरान्त उनके आवास पर दिवंगत आत्मा की शान्ति हेतु श्रद्धाँजलि सभा का आयोजन किया गया। सपा के प्रान्तीय नेता एवं सेन्ट्रल बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष ओपी यादव ने उन्हें श्रद्धाँजलि देते हुए कहा कि सदर विधान सभा में अमावाँ विकास खण्ड सामंती आतंक का पर्याय था।  विनय यादव इस क्षेत्र में सामाजिक परिवर्तन के मिशन के वाहक के रूप में कार्य कर रहे थे। समाजवादी परचम को लहराने का काम कर रहे थे।  क्षेत्र के सामंती सोंच के पोषकों के द्वारा उन पर जानलेवा हमला किया गया। लगभग 6 माह तक वे मेडिकल कालेज लखनऊ में जीवन मृत्यु के बीच संघर्ष करने के बाद पुनः समाजवादी झंडे को बुलन्द किया। सामंती आतंक के सामने कभी घुटने नहीं टेके। इसी संघर्ष की देन है कि आज उनका पुत्र आलोक यादव ही नहीं दो और समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी भारी बहुमत से जिला पंचायत सदस्य चुने गये। अस्पताल में इलाज के दौरान सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव उन्हें अस्पताल में देखने गये थे। श्रद्धाँजलि सभा की अध्यक्षता यादव महासभा के जिलाध्यक्ष हीरालाल यादव एवं संचालन आर.के. यादव ने किया। इस अवसर पर काँग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता राजेश यादव, इं. वीरेन्द्र यादव, प्रान्तीय नेता राजेश चन्द्रा, पूर्व डीजीसी रामशरन सिंह, दिनेश यादव, संदीप यादव, अनुज बरवारी, अरशद खान, के.के. यादव, रामप्रसाद यादव, पूर्व प्रमुख लाल जी यादव, मो0 मतीन प्रधान, अवधेश मौर्य, शत्रोहन धरकार प्रधान, आर.एस. मानव आदि लोगों ने विनय यादव के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उनके व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर प्रकाश डाला। विनय यादव अपने पीछे माँ श्रीमती ममता यादव, पत्नी श्रीमती रामरती, भाई अनिल यादव, राजेश यादव, पुत्र सुधीर यादव, राहुल यादव, आलोक यादव, अभिषेक यादव सहित भरा पूरा परिवार छोड़ गये।

 

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पक्षी आपका भाग्य बदले

जन्म कुंडली में वेश्यावृति के योग

भृगु संहिता के उपचार